बाबरी विध्वंस मामला: अंसारी ने की सभी आरोपियों को बरी करने की अपील, 30 सितम्बर को आने वाला है फैसला

बाबरी विध्वंस मामला: अंसारी ने की सभी आरोपियों को बरी करने की अपील, 30 सितम्बर को आने वाला है फैसला

अयोध्या: बाबरी मस्जिद के वादी इकबाल अंसारी ने मस्जिद विध्वंस मामले में सुनवाई कर रही CBI स्पेशल कोर्ट में अनुरोध किया है कि मामले के सभी आरोपियों को बरी कर दिया जाए. CBI स्पेशल कोर्ट 30 सितंबर को मामले में अपना फैसला देने वाली है और आरोपियों में लालकृष्ण आडवाणी, डॉ. मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, कल्याण सिंह और विनय कटियार जैसे दिग्गज नेताओं का नाम शामिल हैं.

अंसारी ने बताया है कि शीर्ष अदालत पहले ही विवाद पर अपना फैसला दे चुका है और मंदिर निर्माण की प्रक्रिया भी प्रारंभ हो चुकी है. उन्होंने कहा कि, "बाबरी विध्वंस मामले में कई आरोपी शख्स अब जीवित नहीं रहे और जो लोग मौजूद हैं, वे काफी वृद्ध हो गए हैं. मैं चाहता हूं कि इस मामले को अब समाप्त कर दिया जाए और इसे अब बंद करना चाहिए. किसी भी मामले में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद कोई विवाद नहीं बचा है."

अंसारी ने आगे कहा कि हिंदू और मुसलमानों को एक साथ सौहार्द से रहने और देश के सामाजिक ताने-बाने को सशक्त करने की इजाजत दी जानी चाहिए. विध्वंस मामले में सारी बहस अब पूरी हो गई है और फैसला 30 सितंबर को सुनाया जाएगा. बता दें कि 27 वर्ष तक चले इस केस में 30 सितंबर को CBI स्पेशल कोर्ट अपना फैसला सुनाएगी. 

कोरोना काल के बीच संसद का मानसून सत्र, मनमोहन-चिदंबरम सहित कई सांसदों ने ली छुट्टी

डोनाल्ड ट्रम्प का बड़ा ऐलान- जनवरी से हर अमेरिकी को मुफ्त में मिलेगी वैक्सीन

पीएम मोदी के बर्थडे पर 'बेरोज़गार दिवस' मना रही कांग्रेस, राहुल बोले- रोज़गार को कब सम्मान देगी सरकार ?