पंजाब किंग्स की जीत के बाद शाहरुख खान ने विराट कोहली और MS धोनी को दिया ओपन चैलेंज

इसे केकेआर की हार कहें या पंजाब किंग्स की जीत।।। शाहरुख खान एक ऐसा नाम है जो इन सभी स्थितियों में उभरा है। एक हैं पंजाब किंग्स के विस्फोटक बल्लेबाज शाहरुख खान। दूसरा, शाहरुख खान, जो बॉलीवुड के बादशाह भी हैं और केकेआर के सह-मालिक हैं। केकेआर को पंजाब किंग्स ने 5 विकेट से हराया। इस जीत में कप्तान केएल राहुल की एंकर की भूमिका निर्विवाद रूप से महत्वपूर्ण थी। लेकिन, अंत में बल्लेबाज शाहरुख खान ने तूफान खड़ा कर दिया। उन्होंने करीब ढाई सौ के स्ट्राइक रेट से ऐसी छटा बिखेरी कि तीन गेंद का लक्ष्य पहले ही रह गया। शाहरुख खान ने छक्कों के साथ पंजाब किंग्स की जीत की आखिरी स्क्रिप्ट भी लिखी। लेकिन बल्लेबाज शाहरुख खान इस बात को नहीं मानते। दूसरे हाफ में अपना पहला मैच खेलने के बाद उन्होंने विराट कोहली और एमएस धोनी को भी ओपन चैलेंज दिया है।

हम शाहरुख के ओपन चैलेंज के बारे में चर्चा करेंगे। लेकिन, सबसे पहले आपको केकेआर के खिलाफ उनकी विस्फोटक पारी के बारे में पता होना चाहिए। पंजाब किंग्स को जब जीत के लिए 21 गेंदों में 32 रन बनाने थे तो शाहरुख खान के कदम क्रीज पर थे। पंजाब के थिंक टैंक ने उन पर विश्वास किया और उन्हें फैबियन एलन के सामने बल्लेबाजी करने के लिए नियुक्त किया। और उन्होंने उस प्रतिबद्धता को पूरा किया। शाहरुख खान ने 9 गेंदों में नाबाद 22 रनों की पारी के साथ 244।44 का स्ट्राइक रेट ठोका। इस दौरान उन्होंने सिर्फ दो छक्के और एक चौका लगाया।

आईपीएल 2021 के दूसरे हाफ में अपने पहले मैच में शाहरुख ने खेल खत्म करने की क्षमता का प्रदर्शन किया, जिसके बाद वह पूरी तरह से साबित हुए। उनका आत्म-विश्वास नई ऊंचाइयों पर पहुंच गया। मैच के बाद उन्होंने विनिंग सिक्स को लेकर कहा कि, वो इतने बहादुर हैं कि उस तरह के शॉट खेल सकते हैं। हालांकि वो यहीं नहीं मानें, बल्कि इसके पश्चात् शाहरुख खान ने विराट कोहली और एमएस धोनी की टीमों के लिए संदेश भी छोड़े। शाहरुख खान ने कहा, "हमें प्लेऑफ की उम्मीदों को जिंदा रखने के लिए अपने तीनों मैच जीतने हैं। इसका आरम्भ हमने KKR के खिलाफ पहला मैच जीतकर बेहतरीन तरीके से किया है। आगे भी यही कोशिश रहेगी।"

विस्फोटक बल्लेबाज़ क्रिस गेल ने छोड़ा IPL, पंजाब किंग्स को अधर में छोड़कर लौटेंगे स्वदेश

देश के लिए कई मेडल जीत चुकी है लवलीना बोरगोहेन

प्रवीण कुमार के पास नहीं थे जूते खरीदने तक के पैसे, फिर इस तरह पाई सफलता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -