कोरोना के कहर में टूटा शेयर बाजार, इन स्टॉक्स की सबसे ज्यादा हुई पिटाई

कोरोना के कहर में टूटा शेयर बाजार, इन स्टॉक्स की सबसे ज्यादा हुई पिटाई

कोरोना के प्रभाव के बीच शेयर बाजार में बिकवाली के चलते नए वित्त वर्ष के पहले दिन निवेशकों को 3,20,633.05 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा. BSE Sensex बुधवार को 1,203.18 अंक या 4.08 फीसद टूटकर 28,265.31 अंक पर बंद हुआ. इक्विटी मार्केट के टूटने से BSE पर लिस्टेड कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 3,20,633.05 करोड़ रुपये कम होकर  1,10,28,123.54 करोड़ रुपये रह गया. वित्त वर्ष 2018-19 के आखिरी दिन शेयर बाजारों में अच्छी खासी बढ़त देखने को मिली थी. 

लॉक डाउन के बीच संभला बाजार, सेंसेक्स में 800 अंकों की बढ़त

इस गिरावट को लेकर रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड के वाइस प्रेसिडेंट (रिसर्च) अजीत मिश्रा ने इस बाबत कहा, ''भारत में कोरोनावायरस के मामलों में अचानक वृद्धि एवं वाहनों की बिक्री में कमी की वजह से बुधवार को बाजार में गिरावट देखने को मिली. इसके अलावा कमजोर वैश्विक संकेत और विदेशी कंपनियों द्वारा शेयरों की बिकवाली की वजह से लोगों की धारणा प्रभावित हुई.'' 

कोरोना: सोने के दामों में लगने वाली है आग, जानिए कितने बढ़ जाएंगे भाव

अपने बयान में आगे उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर मंदी, COVID-19 के बढ़ते मामलों और कमजोर आर्थिक आंकड़ों की वजह से वैश्विक स्तर पर शेयर बाजारों के टूटने का असर भी बाजार पर देखने को मिला.

BPCL : इस दिन तक के लिए टली बोली जमा करने की तारीख 

अगर बात करें स्टॉक्स की तो सेंसेक्स पर Tech Mahindra को सबसे अधिक नुकसान उठाना पड़ा. इसके अलावा Kotak Bank, Tata Consultancy Services, Infosys और Axis Bank के शेयरों में भी गिरावट दर्ज की गई.  वही, BSE के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पर केवल Hero MotoCorp, Bajaj Auto, Bajaj Finance और Titan के शेयर चढ़े.

डर के बाज़ार में 'कोरोना' का सौदा, किसे मुनाफा और किसे घाटा ?

वायदा भाव में टूटा सोना, इस दाम पर हुआ बंद

कोरोना : टैक्सपेयर्स को सरकार ने दी बड़ी राहत, जाने क्या होगा फायदा