Women's Day : अब अभिनेताओं के मुकाबले अभिनेत्रियों को मिलने लगी है ज्यादा फीस

8 मार्च का दुनियाभर में 'वूमेन्स डे' के तौर पर मनाया जाता है. ये दिन महिलाओ के नाम ही समर्पित किया जाता है और हो भी क्यों ना क्योकि नारी है तो जीवन है. नारी जो परिवार की सबसे महत्वपूर्ण सदस्य होती है वह आज दुनियाभर में हर जगह बड़ा नाम कमा रही है. चाहे वह अंतरिक्ष में जाने की बात हो या फिर फिल्मो की. जी हां...महिलाओं का काम अब सिर्फ रोटी सेकने तक ही सीमित नहीं है बल्कि अब तो वह आसमान छूने तक का काम करने में माहिर हो चुकी है. अगर बात की जाए फिल्म इंडस्ट्री के बारे में ही तो यहां भी फीमेल एक्ट्रेस मेल एक्टर को कड़ी टक्कर दे रही है फिर चाहे वो अभिनय की बात हो या फिर फीस की.

अब तो फीमेल एक्ट्रेसेस भी मेल डोमिनेटिंग इंडस्ट्री पर जमकर हावी हो रही है. बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में भी आजकल सभी अभिनेत्रियां एक्शन्स सीन्स करने में भी माहिर हो चुकी है. साथ ही कुछ अभिनेत्रियां तो ऐसी है जो अपने दम पर फ़िल्में हिट करवा देती है. इसके साथ ही बॉलीवुड में महिलाओ पर आधारित भी कई फिल्मे बन चुकी है और आगे भी बनेंगी. और बाकी फिल्मे के मुकाबले महिलाओ पर आधारित फिल्मे देखना दर्शक ज्यादा पसंद करते है.एक समय था जब बॉलीवुड में एक्टर्स के मुकाबले एक्ट्रेस की फीस भी कम होती थी लेकिन अब ये सोच भी बदल चुकी है और अब फिल्मो में अभिनेताओं से ज्यादा फीस अभिनेत्रियों को मिलती है. 

अगर बात करे फिल्म पद्मावत की ही तो इस फिल्म के लिए दीपिका पादुकोण को रणवीर सिंह और शाहिद कपूर से ज्यादा फीस मिली थी. दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी, कंगना रनौत, विद्या बालन, रानी मुखर्जी, तापसी पन्नू, जायरा वसीम जैसी कई अभिनेत्रियों ने महिलाओ के मुद्दे पर आधारित फिल्मे बनाकर फिल्म को अपने दम पर सुपरहिट करवाया है.

महिलाओं पर आधारित वह फ़िल्में जिन्हे देखकर होगा नारीशक्ति का अहसास

B'Day : बॉलीवुड में आज भी प्रसिद्ध हैं साहिर लुधियानवी की कविताएँ

अक्षय कुमार के कारण फिर टली 'हेरा फेरी 3'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -