अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस : जानिये कबसे और किसलिए मनाया जाता है यह ख़ास दिन

Sep 08 2018 12:05 PM

नई दिल्ली। आज (8 सितंबर 2018) को 52 वा अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस है। विश्व में शिक्षा और साक्षरता की जागरूकता फ़ैलाने के लिए इसे हर साल 8 सितंबर को मनाया जाता है।  लेकिन क्या आप जानते है कि इस दिवस को आखिर शुरू कब और क्यों किया गया था और इसे कब से मनाया जा रहा है। अगर नहीं तो घबराइए मत क्योकि हम आपके लिए लाये है अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का इतिहास और इससे जुडी मुख्य जानकारियां। 

अगर आप भी है PNB के ग्राहक तो यह खबर जरूर पढ़े


अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का इतिहास 

दुनिया भर में शिक्षा और साक्षरता की महत्वता की अलख जगाने के लिए यूनेस्को ने 7 नवंबर 1965 में घोसना की थी कि  हर वर्ष 8 सितंबर को पुरे विश्व में अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के रूप में मनाया जायेगा। यह दिवस पहली बार 1966 से मनाया गया था  और तब से लेकर आज तक हर  साल 8 सितंबर को अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के रूप में मनाया जाता है। 

इंद्रधनुषी झंडे से ये है समलैंगिकता का कनेक्शन? आप भी जान लीजिये


विश्व में कितनी है साक्षरता

विश्व शिक्षा निगरानी बोर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक हर पाँच में से एक पुरुष असाक्षर है इसके साथ ही दुनिया की दो-तिहाई महिलाएँ भी अनपढ़ है। माली, बुरकिना फासो और नाइजर ऐसे देश है जहाँ साक्षरता दर सबसे कम है। 


भारत में कैसे है हालत 
भारत में साक्षरता दर विश्व की साक्षरता दर से काफी कम है। भारत में 2011 में साक्षरता दर 75.06 थी जो उस वक्त विश्व की  साक्षरता दर 84% से काफी काम है। 

यह भी पढ़े 

Video : राष्ट्रगान सुनकर जब ऐश्वर्या की आँखें हुई नम

सुप्रीम कोर्ट ने SC/ST एक्ट मामले में केंद्र सरकार से मांगा जवाब

गौरक्षकों और मॉब लिंचिंग मामले पर SC ने 18 राज्यों को लगाई फटकार

?