DGCA का फैसला, 31 अक्टूबर तक जारी रहेगी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर रोक

नई दिल्ली: नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के परिचालन पर जारी रोक 31 अक्टूबर तक आगे बढ़ा दी गई है. विमानन क्षेत्र के नियामक नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) ने बुधवार को इस संबंध में जानकारी दी है. DGCA ने कहा है कि, ''हालांकि, सूचीबद्ध अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को सक्षम प्राधिकरण के चयनित मार्गों पर चलाने की इजाजत दी जा सकती है.

यह मामला दर मामला आधार पर निर्भर करेगा'' कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार पर लगाम के लिए 23 मार्च को लागू किए गए लॉकडाउन के बाद से नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के परिचालन पर पाबंदी है. हालांकि, मई से वंदे भारत मिशन और जुलाई से चुनिंदा देशों के साथ किए गए विशेष समझौतों के तहत इंटरनेशनल फ्लाइट्स का परिचालन किया जा रहा है. बता दें कि, भारत ने अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त अरब अमीरात, केन्या, भूटान और फ्रांस के साथ विशेष द्विपक्षीय उड़ान समझौता (एयर बबल पैक्ट) किया है. DGCA ने अपने परिपत्र में साफ़ किया कि यह रोक सिर्फ नियमित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों पर जारी रहेगी. इससे विशेष अनुमति प्राप्त और सभी मालवाहक उड़ानों के परिचालन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस लॉकडाउन के बाद से ही देश में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा हुआ है. इससे पहले भी DGCA की ओर से कहा गया था कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानें दीवाली तक 60 फीसद आरंभ हो सकती है. फिलहाल अभी फ्लाइट्स पर रोक लगा दी गई है और भविष्य में कोरोना की स्थिति के मुताबिक, इस पर निर्णय लिया जा सकता है.

पेट्रोल-डीज़ल के दाम में क्या हुआ बदलाव, यहाँ जानें आज के भाव

इस दिन से बदल जाएंगे Tax से जुड़े ये नियम, जानिए क्या होंगे नए रूल्स

इन बैंकों ने किया फेस्टिव ऑफर्स का ऐलान, ग्राहकों को मिलेंगे बेहतरीन ऑफर्स

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -