भारत-पाक के आम नागरिकों के बीच चलता रहेगा संपर्क और संवाद

नई दिल्ली : भले ही भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव है। सीमा पर हालात काफी अलग हैं लेकिन भारत सरकार की ओर से यह साफ कर दिया गया है कि आम लोगों के बीच होने वाला संपर्क पहले की ही तरह चलता रहेगा। गौरतलब है कि पाकिस्तान के कलाकारों को भारत में प्रतिबंधित करने की मांग की जा रही थी। मगर भारत के विदेश सचिव एस जयशंकर ने सरकार की ओर से यह जानकारी संसद की स्थायी समिति को दी।

दरअसल यह स्थायी समिति विदेश मामलों को लेकर बनाई जाती है। एस जयशंकर ने स्थायी समिति को जो जानकारी दी उसमें उन्होंने कहा कि सरकार दोनों देशों के आम लोगों के संपर्क और संवाद को रोकना नहीं चाहती है। गौरतलब है कि भारत ने पाकिस्तान समर्थित आतंकियों द्वारा उड़ी में किए गए हमले के बाद एलओसी के पास सर्जिकल स्ट्राईक को अंजाम दिया था। जिसके बाद विश्वभर में इसकी चर्चा की जा रही थी।

दूसरी ओर भारत के कई राजनीतिक दलों जिसमें एमएनएस, शिवसेना आदि शामिल हैं उन्होंने भारत में पाकिस्तान के कलाकारों और हस्तियों के आगमन और उनकी प्रस्तुतियों को बैन करने की मांग की थी। इतना ही नहीं एमएनएस द्वारा धमकी दी गई थी कि वे पाकिस्तान के कलाकारों वाली फिल्म की स्क्रीनिंग को रोक देंगे।

कई फिल्म प्रोड्युसर्स संगठनों ने पाकिस्तान के कलाकारों के काम करने पर प्रतिबंध लगा दिया था। इंडियन मोशन पिक्चर्स प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन ने पाकिस्तान के कलाकारों को प्रतिबंधित कर दिया था। ऐसे में सिनेमा आॅनर्स एग्जीबिटर्स एसोसिएशन आॅफ इंडिया ने महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक व गोवा में पाकिस्तान के अभिनेता की फिल्म की स्क्रीनिंग न करने का निर्णय भी लिया था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -