गुरु नानक देव की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में मंत्री रमेश पोखरियाल ने की नई घोषणा

Nov 08 2019 10:35 AM
गुरु नानक देव की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में मंत्री रमेश पोखरियाल ने की नई घोषणा

नयी दिल्ली: सात नवंबर (भाषा) मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने बुधवार को घोषणा की कि पंजाब में  गुरु नानक देव विश्वविद्यालय में 493 करोड़ रुपये की लागत से एक अंतर आस्था केंद्र की स्थापना की जाएगी। पोखरियाल दिल्ली विश्वविद्यालय के श्री गुरु तेग बहादुर खालसा कालेज में एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550वीं पर्व  के उपलक्ष्य पर केंद्रीय मंत्री पोखरियाल और उनकी कैबिनेट सहयोगी हरसिमरत कौर बादल ने उनकी शिक्षाओं पर आधारित तीन पुस्तकों का विमोचन किया।

 पोखरियाल ने कहा, ‘‘पंजाब में गुरु नानक देव विश्वविद्यालय में 493 करोड़ रुपये की लागत से एक अंतर आस्था केंद्र की स्थापना की जाएगी। आज के समय की जटिलताओं से भरी दुनिया में गुरु नानक देव की शिक्षाएं उपयुक्त हैं और विश्वभर के युवाओं को मानवता, समानता और 'एक ईश्वर' के उनके दर्शन को अपनाने की जरूरत है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय विश्वविद्यालयों में गुरु नानक देव ‘चेयर’ के अलावा सरकार ने ब्रिटेन और कनाडा के विश्वविद्यालयों में भी ‘चेयर’ की घोषणा की है। मूल रूप से पंजाबी में प्रकाशित तीन पुस्तकों “गुरु नानक बानी”, “नानक बानी”, और “साखियां गुरु नानक देव” का 15 प्रमुख भारतीय भाषाओं में अनुवाद किया गया है। भाई जोध सिंह द्वारा संकलित “गुरु नानक बानी”, गुरु नानक देव की मूल बानी के चुनिंदा छंदों का एक संग्रह है। मंजीत सिंह द्वारा संकलित “नानक बानी” में सिख गुरु की पांच प्रमुख रचनाएं (पंच बानियां) हैं। गुरु नानक की जीवनी ‘जनमसाखी’(जन्म कथाएँ) को माना जाता है। जगतारजीत सिंह द्वारा संकलित 'साखियां गुरु नानक' गुरु नानक देव की जीवन गाथाओं पर एक पुस्तक आधारित है। 

गुरु नानक देव का जन्म श्री ननकाना साहिब (वर्तमान में पाकिस्तान) में 1469 में हुआ था। उन्होंने समाज में प्रेम और सद्भाव का प्रचार प्रसार करने के लिए भारत, दक्षिण एशिया, तिब्बत और अरब की आध्यात्मिक यात्राएं की थीं। उन्होंने अपने संदेशों को सिख धर्म के पवित्र ग्रंथ "गुरु ग्रंथ साहिब" में लिखा गया है, पिछले साल नवंबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 2019 में गुरु नानक देव की 550वीं पूरे देश में मनाने का प्रस्ताव पारित किया था।

तीस हजारी विवाद : आज उत्तर प्रदेश में हड़ताल पर रहेंगे वकील

PAK ने फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, हुआ एक और जवान शहीद

चक्रवात 'बुलबुल' को लेकर अलर्ट हुआ जारी, बंगाल में हो सकती है भारी बारिश