GDP के 7.8 फीसदी रहने के लगाये जा रहे अनुमान

GDP के 7.8 फीसदी रहने के लगाये जा रहे अनुमान

नई दिल्ली : भारत की अर्थव्यवस्था में सुधार को देखते हुए हाल ही में यह अनुमान लगाये जा रहे है कि पिछले वर्ष के दौरान देश की सकल घरेलू उत्पाद (GDP) वृद्धि इस वर्ष ज्यादा रह सकती है. गौरतलब है कि पिछले वर्ष GDP को 7.3 प्रतिशत पर देखा गया था और अब इसके 7.8 प्रतिशत रहने के कयास लगाये जा रहे है. जानकारी में जापानी ब्रोकरेज फर्म ने बताया है कि खरीद प्रबंधकों के सूचकांक के आंकड़ों से भी यह बात सामने आती है कि अर्थव्यवस्था में चक्रीय सुधार में प्रगति नजर आ रही है.

इसके साथ ही मुद्रास्फीति और ब्याज दरों में कमी के कारण खपत मांग और मुनाफा मार्जिन भी बढ़ी है जिससे अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत मिले है. साथ ही यह भी बता दे कि जापान का निक्केई भारत विनिर्माण PMI भी अगस्त में 52.3 पर देखा गया है, जोकि जुलाई के 52.7 से नीचे देखा जा चूका है. इन अंकों से यह भी पता चला है कि जुलाई माह के अनतर्गत यह 6 माह के की ऊंचाई पर उपस्थित था. यह भी बताया जा रहा है कि वैसे तो विनिर्माण PMI में अगस्त में गिरावट ही देखी जाती है लेकिन इस बार की गिरावट पहले से काफी कम है. इस कारण PMI आंकड़ों को देखते हुए एजेंसी का भी यह मानना है कि विनिर्माण गतिविधियों में सुधार अच्छी दिशा में है.