शीना हत्याकांड : इंद्राणी ने नहीं कबूला जुर्म, हत्या की मंशा साफ नहीं

Sep 04 2015 04:52 AM
शीना हत्याकांड : इंद्राणी ने नहीं कबूला जुर्म, हत्या की मंशा साफ नहीं

मुंबई : शीना बोरा हत्याकांड में गुरुवार को मुंबई पुलिस शीना बोरा की हत्या की मंशा साबित करने में जुटी रही, हालांकि उसे इसमें अभी तक सफलता नहीं मिल सकी है। हत्याकांड में प्रमुख संदिग्ध शीना की मां इंद्राणी मुखर्जी जुर्म कबूल न करने पर अड़ी रहीं। अदालत में इस मामले की अगली सुनवाई शनिवार को होगी। इंद्राणी का दावा है कि उसने अपनी बेटी शीना की हत्या नहीं की। पुलिस पारिवारिक विवाद, संपत्ति विवाद और वित्तीय मकसद सभी पहलुओं से शीना की हत्या के तीनों आरोपियों इंद्राणी, उसके पूर्व पति संजीव खन्ना और उसके पूर्व ड्राइवर श्यामवर राय के साथ ही अन्य से पूछताछ में लगी हुई है।

टेलीविजन चैनल स्टार इंडिया के पूर्व मुख्य कार्यकारी और इंद्राणी के पति पीटर मुखर्जी से लगातार दूसरे दिन गुरुवार को पुलिस ने पूछताछ की। पुलिस ने पीटर से मुख्य रूप से वित्तीय एवं संपत्ति के संबंध में पूछताछ की। इस बीच गुरुवार को कुछ मीडिया रपटों में इंद्राणी द्वारा जुर्म कबूल कर लेने की बात भी सामने आई, लेकिन उनके वकील गुंजन मंगला ने इससे इनकार कर दिया।

खबर के अनुसार इंद्राणी ने अपनी बेटी शीना की हत्या, और हत्या की साजिश में अपनी मुख्य भूमिका और अन्य पहलुओं में भी अपनी भूमिका स्वीकार कर ली। शीना की हत्या में इस्तेमाल हुए कार और उसके मालिक के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए खार पुलिस थाने ने निजी कार किराए पर देने वाली एक कंपनी के महाप्रबंधक को समन जारी किया। अहम सुराग हासिल करने की उम्मीद में पुलिस इंद्राणी के पूर्व लिव-इन पार्टनर सिद्धार्थ दास को भी सम्मन जारी कर सकती है। बुधवार को सिद्धार्थ के कोलकाता में होने की जानकारी मिली थी।

सिद्धार्थ ने इंद्राणी के साथ रिश्ता होने की बात कबूल कर ली है और शीना तथा शीना का भाई मिखाइल बोरा, सिद्धार्थ के ही बच्चे हैं। सिद्धार्थ ने जांच में पूरा सहयोग देने की इच्छा जाहिर की है। पुलिस ने गुरुवार को भी तीनों मुख्य आरोपियों, इंद्राणी, खन्ना और राय से पूछताछ जारी रखी। हालांकि इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है उन्हें आमने-सामने बिठाकर पूछताछ की गई या नहीं।

जांचकर्ताओं ने जल्द ही मामले में बड़े खुलासे के प्रति सकारात्मक उम्मीद व्यक्त की है, हालांकि ब्यौरा देने के नाम पर चुप्पी साधे रखी। इंद्राणी, खन्ना और राय पांच सितंबर तक के लिए पुलिस की हिरासत में हैं। पुलिस को रायगढ़ से बीते शुक्रवार को मिले कथित तौर पर शीना के कंकाल के डीएनए परीक्षण और फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार है।