इंदौर में इस सॉफ्टवेयर के तहत घरों तक 'छप्पन' का स्वाद पहुंचाने की तैयारी

इंदौर : लॉकडाउन के चलते पिछले दो माह से छप्पन दुकान बंद है. अभी यह तय नहीं है कि यहां लोगों की आवाजाही कब शुरू हो पाएगी. ऐसे में छप्पन दुकान के व्यापारी अब लोगों को घरों तक सॉफ्टवेयर और डिलिवरी सिस्टम का उपयोग कर 'छप्पन' का स्वाद पहुंचाने की तैयारी में जुट गए हैं. छप्पन दुकान के व्यापारी निगम व जिला प्रशासन के अफसरों के सामने जल्द ही ऑनलाइन फूड डिलिवरी के लिए अपना प्रस्ताव रखने वाले हैं.  

दरअसल, व्यापारियों ने ऑनलाइन फूड डिलिवरी के लिए एक कॉमन सॉफ्टवेयर के उपयोग की तैयारी कर ली है. इसके लिए संबंधित एजेंसी सॉफ्टवेयर भी तैयार कर रही है. इसके अलावा छप्पन दुकानों से ऑनलाइन फूड डिलिवरी के लिए भी एक कॉमन सिस्टम बनाया जा रहा है. इसी तरह सराफा चौपाटी से जुड़े दुकानदार भी फूड ऐप के माध्यम से लोगों तक सराफा का स्वाद पहुंचाने की योजना पर काम कर रहे हैं.

जानकारी के लिए बता दें की अभी तक छप्पन दुकान के आउटलेट से कई लोग फूड ऐप के माध्यम से ऑर्डर करते थे. लेकिन कई बार अलग-अलग दुकानों से खाने-पीने की चीजें बुलवाने पर लोगों को अलग-अलग सर्विस चार्ज भी देना होता था. लेकिन अब व्यापारी ऐसी तैयारी कर रहे हैं कि एक डिलिवरी सिस्टम होने के वजह से छप्पन दुकान पर फूड ऑर्डर के लिए डिलिवरी बॉय की भीड़ भी नहीं लगेगी. यदि किसी व्यक्ति को अपने घर यहां के अलग-अलग आउटलेट से खाने-पीने की सामग्री बुलानी होगी तो वो एक कॉमन सर्विस चार्ज के माध्यम से चीजें अपने घर तक बुलवा सकेगा. इसके लिए छप्पन दुकान परिसर में एक कंट्रोल रूम बनाया जाने वाला है. कंट्रोल रूम की टीम दुकानों से फूड ऑर्डर के पैकेट एकत्र करने डिलिवरी बॉय को देगी.

भोपाल में 51 नए कोरोना के मामले मिले, 1315 पहुंची मरीजों की संख्या

इंदौर में 3000 के पार हुई कोरोना मरीजों की संख्या, अब तक 114 लोगों ने गवाई जान

UP कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ़्तारी पर भड़के गहलोत, बोले- आवाज़ उठाना गुनाह नहीं

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -