कोरोना को 'मात' देकर ड्यूटी पर लौटे ASI नरेश वाजपेयी, साथी पुलिसकर्मियों ने पुष्पवर्षा से किया स्वागत

इंदौर: मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर के पंढरीनाथ थाने पर पदस्थ 61 वर्षीय सहायक उपनिरीक्षक नरेश वाजपेयी कोरोना वायरस संक्रमण को मात देकर पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। रविवार को जब वे इस महामारी को हराकर ड्यूटी करने थाने पहुंचे तो सिपाहियों ने उन्हें रोक लिया। फिर उनका स्वागत करते हुए पुष्पवर्षा की। इसके बाद स्टाफ के सदस्यों ने इस ख़ुशी में जमकर डांस भी किया।

इससे पहले रविवार को कोरोना संक्रमण से लड़ाई जीत कर कांस्टेबल हरिओम गुर्जर का परिवार घर वापस पहुंचा था। टीआई अनिल चौहान ने जानकारी देते हुए बताया है कि 6 दिन से गुर्जर की पत्नी पुष्पेंद्र (22) और बेटे वेदांश (1) का इलाज चोइथराम हॉस्पिटल में चल रहा था। रविवार को ही गजल गायक बुंदु खां सहित दो कोरोना अस्पतालों से 16 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे थे।

वहीं,आज कोरोना संक्रमित 7 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद अरबिंदो अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया जाएगा । मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के मुताबिक, रविवार तक इंदौर में कोरोना संक्रमण से स्वस्थ हुए 898 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका था। सोमवार को 7 और मरीज इस संक्रमण से ठीक हो गए है। इस प्रकार इंदौर में कोरोनावायरस से ठीक होने वाले मरीजों की तादाद बढ़कर 905 हो गई है।

 

एमपी के इस शहर में प्लाज्मा थैरेपी से ठीक हुआ कोरोना का मरीज

सप्ताह के पहले दिन हरे निशान में खुले बाजार, 350 अंक चढ़ा सेंसेक्स

सरकार ने किसानों के खातों में डाले 18 हज़ार करोड़, इस तरह चेक करें अपने अकाउंट का बैलेंस

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -