सुसाइड नोट में यह बात लिखकर सब इंजीनियर ने की आत्महत्या

इंदौर: आजकल लॉकडाउन में भी अपराध के मामले बढ़ते चले जा रहे हैं. ऐसे में जो मामला हाल ही में सामने आया है उस मामले में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के मैकेनिकल विभाग में सब इंजीनियर के पद पर पदस्थ अम्बिका पुर की शिवधारी कालोनी निवासी मोहित शर्मा पिता बृजकिशोर शर्मा (56) का शव संदेहास्पद परिस्थितियों में आंगन से लगे गैलरी में पाया गया है. इस मामले में पुलिस को शव के पास एक जहरीले पदार्थ की शीशी और सुसाइड नोट भी मिला है. पुलिस का कहना है अब वह इसकी पड़ताल में लगी हुई है.

खबर है कि मृत सब इंजीनियर मूलतः इंदौर मध्यप्रदेश के शाजापुर थाना क्षेत्र के नीमबाड़ी का रहने वाला था. जो शिवधारी कालोनी स्थित मकान में किराए से अकेले रहता था. पुलिस ने बताया उनके यहां रोजाना एक महिला सुबह शाम खाना बनाने के लिए आती थी. वहीं बीते सोमवार की सुबह जब वह खाना बनाने के लिए गई तो दरवाजा नहीं खुला और वह वापस आ गई थी. उसके बाद शाम को पुनः खाना बनाने गई तो दरवाजा नहीं खुला तो उसने इसकी जानकारी मकान मालिक को दी. उसके बाद पास की मकान के छत से देखने पर सब इंजीनियर आंगन में पड़े नजर आए. इस बात की सूचना मिलने पर गांधीनगर थाना के टीआई पहुंचे और शव का पंचनामा किया.

पुलिस को जो सुसाइड नोट मिला है, उसमें मृत इंजीनियर मोहित शर्मा ने लिखा है, ''मुझे शुगर, बीपी की बीमारी 10-12 वर्षों से है. मानसिक दवाई के कार्य नहीं करने से मैं और अधिक दवाई खाने से परेशान हूं. मुझसे विभागीय कार्य संपादन नहीं हो पा रहे हैं. वर्तमान में मेरी स्थिति इंदौर जाने लायक नहीं है. अतः परेशानी के कारण मैं मृत्यु चाहता हूं.'' इसी के साथ सुसाइड नोट में इंजीनियर ने अपने कार्यालय के दो कर्मचारियों का नाम भी उल्लेखित किया है जिनसे मोबाइल पर उसकी बातचीत को सुनने के लिए कहा है.

सपा नेता और उनके बेटे की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

मां से बोला बेटा- 'आखिरी बार देख लो मेरा चेहरा', और फिर..

माँ की अश्लील तस्वीर खींचकर बेटा करने लगा ब्लैकमेल

Most Popular

- Sponsored Advert -