इंदौर : रेलवे पटरी पर प्रेम कहानी का दुखत अंत

Oct 03 2015 04:14 PM
इंदौर : रेलवे पटरी पर प्रेम कहानी का दुखत अंत

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर में एक दिल दहला देने वाले हादसे के तहत प्रेमी जोड़े ने प्यार में नाकाम रहने पर एक साथ मरने के लिए आए थे व यहां पर भी मौत ने उन्हें धोखा दिया प्रेमी तो मर गया बाकि प्रेमिका ट्रेन से टकराकर दूर जा गिरी व उसकी हालत अस्पताल में गंभीर बनी हुई है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हीरानगर टीआई शशिकांत चौरसिया ने बताया कि हमे मौके पर से एक 8 पेज के पन्नो का सुसाइड नोट भी मिला है. यह घटना शनिवार सुबह को एमआर -10 रेलवे क्रासिंग के पास  घटित हुई है. पुलिस ने अपनी जानकारी में बताया की इस सुसाइड नोट में मृतक बॉबी उर्फ़ करण ने प्रेम कहानी का उल्लेख किया है व अंत में लिखा की हम दोनों साथ नहीं जी पाए, लेकिन हमारी आखरी इच्छा ज़रूर पूरी कर देना। हम चाहते हैं कि बबली उर्फ़ पूजा और मेरी चिता एक साथ जलाई जाए। सुसाइड नोट के नीचे बॉबी और बबली दोनों ने आई लव यू लिखकर इस सुसाइड नोट में अपने- अपने हस्ताक्षर भी किये है। हीरानगर टीआई शशिकांत चौरसिया ने बताया कि हमे कंट्रोल रूप में सुचना मिली थी की यहां पर रेलवे क्रासिंग के पास दो लोगो की लाश पड़ी है. जब हम मौके पर हमे पटरी पर से बॉबी की लाश मिली जो की ट्रेन के निचे आने से कट गई थी.

व लड़की जिसका नाम बबली है वह पास में ही बेहोश पड़ी हुई थी. आसपास बहुत सा खून भी फैला हुआ था. हमने बबली को तुरंत ही अस्पताल पहुंचाया. बबली जब होश में आई तो सुने अपना नाम पूजा सोनी व निवास स्थान सुंदर नगर बताया. पूजा ने कहा की वह और करण मरने के इरादे से ही पटरी पर लेटे थे। पुलिस के मुताबिक़ ट्रेन के ठीक सामने बॉबी लेटा था, इसलिए उसकी गर्दन कट गई, जबकि टक्कर के कारण बबली ट्रैक से दूर जा गिरी होगी, इस कारण उसकी जान बच गई।  सिर में गहरी चोट के कारण पूजा की हालत काफी गंभीर बनी हुई है. पूजा का परिवार नेपाल का रहने वाला है तथा पूजा को वे नेपाल भेजने वाले थे. बॉबी और पूजा ने तीन दिन पहले मरने का प्लान बनाया था।  बबलू व पूजा एक ही स्कुल में पढ़ते थे. पूजा गुरुवार को घर से चली गई थी व हीरानगर एसआई जेपी पांडे ने बताया की पूजा की माँ ने पूजा की गुमशुदगी की रिपोर्ट भी पुलिस थाने में दर्ज कराई थी व उसी के आधार पर पुलिस ने इस सिलसिले में शेखर से भी तकरीबन छह घंटो तक गहन पूछताछ की थी फिर बाद में उसे छोड़ दिया गया था। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है.