नहीं सुधरे इंदौर के लोग तो शनिवार-रविवार लगेगा लॉकडाउन: कलेक्टर मनीष सिंह

इंदौर : इंदौर शहर में दिन पर दिन कोरोना संक्रमण बढ़ता चला जा रहा है। इस बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रशासन भी चिंतित हो चला है। बीते बुधवार को रात के कर्फ्यू का पहला दिन था, लेकिन इसके बाद भी बड़ी संख्या में लोगों में लापरवाही देखने के लिए मिली। जी दरअसल कई लोगों ने न मास्क पहना और ना ही दो गज की दूरी के नियम का पालन किया। इस दौरान दिनभर पुलिस-प्रशासन के अफसर सड़कों पर मुस्तैद नजर आए। अब इन सभी को देखते हुए इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा, 'अगर नाइट कर्फ्यू के बाद भी हालात नहीं सुधरे तो शनिवार और रविवार को टोटल लाकडाउन लगाने का विकल्प भी खुला है।'

उन्होंने एक वेबसाइट से बातचीत में कहा, 'शहर के फूड जोन जैसे सराफा, 56 दुकान और अन्य चौपाटियों पर लोगों की काफी भीड़ लग रही थी। इसी को लेकर हमने यह निर्णय लिया है। इससे लोग 9 बजे से घरों की तरफ लौटना शुरू करेंगे और जल्द ही घरों में होंगे। इससे संक्रमण के मामलों में 30 से 40 प्रतिशत की कमी आएगी। इसके अलावा पुलिस और प्रशासन की टीम सख्ती करेगी। मास्क न पहनने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। अस्थाई जेल भी बनाई जा रही है। हम लोगों से अपील कर रहे हैं कि कोराना गाइडलाइन का पालन करें।'

वैसे आप सभी को हम यह भी बता दें कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए चिड़ियाघर को 18 मार्च से अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। बीते बुधवार को करीब सात हजार दर्शक यहां पहुंचे और इसी के वजह से यहां कई बार शारीरिक दूरी का नियम टूटता नजर आया। इस बारे में जू प्रभारी डा। उत्तम यादव ने बताया कि, 'चिड़ियाघर में हर दिन करीब साढ़े चार हजार दर्शक पहुंचते हैं। शनिवार और रविवार को यह संख्या 12 से 15 हजार तक पहुंच जाती है।'

4 वर्ष का कार्यकाल पूरा करने पर सीएम योगी ने जनता के नाम लिखी चिठ्ठी, कही ये अहम बातें

जॉली एलएलबी के तीसरे पार्ट में फिर नजर आएँगे अक्षय कुमार!

15 साल की नाबालिग का धर्म परिवर्तन कर हो रहा था निकाह, स्वाति मालीवाल ने रुकवाया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -