इंदौर में लॉकडाउन पर और बरती जाएगी सख्ती, ऑड-ईवन आदेश भी हुए निरस्त

इंदौर: कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए कलेक्टर मनीष सिंह ने सख्त कदम उठाने के निर्देश दे दिए हैं. रविवार को कलेक्टर ने कहा कि आज और कल शहर में संपूर्ण लॉक डाउन रहेगा. आगे भी इसकी अवधि बढ़ाई जा सकती है. ये भी संकेत दिए कि सप्ताहभर से 15 दिन के बीच का यह लॉकडाउन होगा. कलेक्टर ने कहा कि कुछ दिन सूखे अनाज और आलू-प्याज से लोग काम चलाएं, हरी सब्जियों के पीछे ना भागें. कई हाथों से गुजर कर यह सब्जी आप तक पहुंचती है इसीलिए कुछ दिन थोड़ी परेशानी भी उठाएंगे, तभी स्थिति नियंत्रण में आएगी. वर्तमान स्थिति के मुताबिक इंदौर कोरोनावायरस संक्रमण के अपर स्टेज पर पहुंच चुका है. वाहनों से संबंधित ऑड-ईवन आदेश भी निरस्त कर दिया गया है.

इस बारें में कलेक्टर ने कहा कि जो जहां है वही रहेगा, किसी को भी बाहर आने जाने की मंजूरी जारी नहीं होगी. जो छात्र हॉस्टल में हैं वहां हॉस्टल संचालक भोजन उपलब्ध कराएं, जहां भी दिक्कत आ रही है वहां सामान हम पहुंचाएंगे. फूड पैकेट बांटने वाली सभी गैर सरकारी संगठन को जो मंजूरी दी है वह समाप्त की जाती है. फूड पैकेट बांटने का काम प्रशासन करेगा. यदि इस काम में कुछ समस्या आई तो गैर सरकारी संगठनों का सहयोग लिया जाएगा.

जानकरी के लिए बता दें की कलेक्टर ने कहा कि यह लॉकडाउन एक-दो दिन नहीं, थोड़ा लंबा चलेगा. इसलिए 10 से 15 दिन शांति रखें. घर में जो अनाज है वह खाएं. सब्जियों के पीछे नहीं भागें. सब्जी खाना ज्यादा जरूरी नहीं है, आलू-प्याज, दाल, रोटी, चावल से काम चलाएं. लॉकडाउन के दौरान किराना दुकान और सब्जी की दुकान भी बंद रहेंगी. जहां जरूरत होगी वहां होम डिलीवरी से चीजें पहुंचेंगी.

मध्य प्रदेश में 39 कोरोना पॉजिटिव, सात की हालत में आया सुधार

कोरोना के सन्नाटे में वाॅट्सएप की मदद से जरूरतमंदों तक पहुंच रहा ब्लड

कोरोना पीड़ितों के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया देंगे 30 लाख

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -