कोरोना की मार से बेहाल Indigo, 10 फीसद कर्मचारियों को करेगी बाहर

नई दिल्ली: देश की दिग्गज एयरलाइन कंपनी इंडिगो में लगभग 10 फीसदी कर्मचारियों की नौकरी पर तलवार लटक रही है. दरअसल, इंडिगो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रनजॉय दत्ता ने कहा है कि कंपनी को 10 फीसदी कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाना होगा. उन्होंने कोरोना वायरस महामारी के कारण उत्पन्न हुए आर्थिक संकट का हवाला देते हुए ये बात कही. बता दें कि Indigo के कर्मचारियों की तादाद 31 मार्च 2019 को 23,531 थी.

PTI की रिपोर्ट के अनुसार, रनजॉय दत्ता ने एक बयान में कहा है कि, ‘‘मौजूदा जो स्थिति है, उसमें बिना कुछ बलिदान दिए इस आर्थिक संकट से उबर पाना हमारी कंपनी के लिए असंभव सा हो गया है.’’ उन्होंने कहा कि, ‘‘ऐसे में हरसंभव उपाय पर ध्यान देने के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि हमें अपने कार्यबल में 10 फीसद की कमी करने का पीड़ादायक फैसला लेने की आवश्यकता होगी. इंडिगो के इतिहास में इतना दुखद फैसला पहली दफा लिया जा रहा है.’’

दत्ता ने कहा कि इससे प्रभावित होने वाले एम्प्लाइज को उनके ‘नोटिस पीरियड’ (नौकरी छोड़ने या निकालने की पूर्व सूचना अवधि) की सैलरी प्रदान की जाएगी. इसका भुगतान उनके कुल वेतन के आधार पर किया जाएगा. बयान में कहा गया है कि नोटिस पीरियड के भुगतान के अतिरिक्त हटाए जाने वाले कर्मचारियों का कंपनी से बाहर करने का भी भुगतान किया जाएगा.

गुम हो गया है 'आधार', फोन नंबर भी नहीं है रजिस्टर्ड ! इस तरह निकालें दूसरा कार्ड

वैक्सीन पर गुड न्यूज़ से शेयर बाजार गुलज़ार, सेंसेक्स में 500 अंकों की भारी बढ़त

अब लूटने वाले दुकानदारों की खैर नहीं, मोदी सरकार ने लागू किया 'उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -