टीम इंडिया की 16 वर्षीय महिला क्रिकेटर ने कोरोना से लड़ने के लिए दिए एक लाख रुपए

नई दिल्ली: हाल ही में ICC वुमन टी 20 वर्ल्ड कप में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली 16 वर्षीय ऋचा घोष ने कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग के लिए बंगाल मुख्यमंत्री राहत कोष में एक लाख रुपये डोनेट किए हैं। बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) ने कहा कि ऋचा के पिता मानाबेंद्रा घोष शनिवार को चेक देने के लिए सिलिगुड़ी जिला मजिस्ट्रेट सुमंत सहाय के आवास पर पहुंचे थे।

टी 20 वर्ल्ड कप में फाइनल समेत दो मैच में टीम इंडिया के लिए खेलने वाली ऋचा ने कहा कि, ''जब हर कोई कोविड-19 के खिलाफ जंग में जुटा हुआ है और सीएम ने भी इसके खिलाफ एकजुट होकर लड़ने की अपील की तो मैंने भी देश की जिम्मेदार नागरिक होने के नाते योगदान करने के बारे में विचार किया।'' टी 20 वर्ल्ड कप से पहले ऑस्ट्रेलिया में त्रिकोणीय श्रृंखला में डेब्यू करने वाली ऋचा और शेफाली वर्मा दो 16 वर्षीय खिलाड़ी थीं, जो आठ मार्च को हुए फाइनल मुकाबले में खेली थी.

आपको बता दें कि इस मुकाबले में भारत को ऑस्ट्रेलिया के हाथों 85 रन से हार का सामना करना पड़ा था। ऋचा के अलावा कैब में मोहम्मडन स्पोर्टिंग क्लब के प्रतिनिधि दीपक सिंह ने राहत कोष में दो लाख रुपये डोनेट किए हैं। पूर्व महिला टेस्ट खिलाड़ी एम मुखर्जी ने 25,000 रुपये का योगदान करने की इच्छा प्रकट की है।

ऑस्ट्रेलियाई फुटबॉल ने 70 प्रतिशत स्टाफ को किया निरस्त 

टोक्यो ओलंपिक को लेकर बड़ा एलान, अगले साल ओलंपिक कोटे की जरूरत नहीं

रवि शास्त्री का बड़ा बयान, कहा- 'लॉकडाउन में मिले समय से खुद को तरोताजा करें खिलााड़ी'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -