मुंबई-अहमदाबाद के बीच नहीं दौड़ेगी देश की पहली मेट्रो ! रेलवे ने बनाया ये प्लान

नई दिल्‍ली: पीएम मोदी के अहमदाबाद से मुंबई के बीच महात्‍वाकांक्षी बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के सपने को साकार रूप लेने में अभी शायद और अधिक समय लग सकता है। ऐसा भी संभव है कि देश की प्रथम बुलेट ट्रेन मुंबई और अहमदाबाद के बीच न दौड़े। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने शनिवार को कहा कि भारतीय रेलवे, महाराष्‍ट्र में जमीन अधिग्रहण में हो रही देरी के मद्देनज़र मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना को चरणबद्ध तरीके से आरंभ करेगी।

यादव ने बताया कि 508 किलोमीटर लंबी मुंबई-अहमदाबाद हाई स्‍पीड रेल के कार्य में कुछ बाधाएं आ रही हैं। ये बाधाएं महाराष्‍ट्र में किसानों के आंदोलन और राज्‍य सरकार से जुड़ी हुई हैं। हालांकि गुजरात में बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर काम अपनी पूरी गति से आगे बढ़ रहा है। यादव ने कहा कि अगर जमीन अधिग्रहण में और देर होती है तब ऐसी स्थिति में रेल मंत्रालय ने गुजरात के वापी तक ही बुलेट ट्रेन को प्रथम चरण में चलाने की योजना बनाई है।

यादव ने आगे कहा कि महाराष्ट्र सरकार ने रेलवे को भरोसा दिलाया है कि अगले चार महीनों में बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के लिए 80 फीसद जमीन अधिग्रहण का कार्य संपन्न कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि एक दफा ऐसा हो जाने पर, हम पूरी लाइन पर एक साथ काम आरंभ कर सकते हैं और फिर दोनों राज्यों की बुलेट ट्रेन को एक साथ चलाया जा सकता है। हमें अगले चार महीनों में पूरी तस्वीर मिल जाएगी और फिर निर्धारित किया जाएगा कि कमीशन चरणों में किया जाएगा या एक बार में। हालांकि, यदि महाराष्ट्र में भूमि अधिग्रहण में देरी हो रही है, तो वापी तक 325 किलोमीटर की दूरी निर्धारित की जाएगी। यह फैसला चार महीने में लिया जाएगा। 

स्टॉक पर आज होगा फोकस, शानदार उछाल के साथ शुरू हुआ बाजार

नए साल में बैंकिंग सेक्टर के लिए सबसे बड़ी चुनौती एनपीए से निपटना

ये है 2020 के शीर्ष आईटीईएस खिलाड़ी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -