हैदराबाद से मिली हार का राहुल ने बताया ऐसा कारण

हैदराबाद : रोमांचक मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद से किंग्स इलेवन पंजाब को 213 रनों का लक्ष्य दिया था। लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब की टीम का पहला विकेट क्रिस गेल के रूप में गिरा। जिम्मेदारी लोकेश राहुल के कंधों पर थी। उन्होंने धीमी बल्लेबाजी की। लोकेश राहुल ने 56 गेंदों में 79 रनों की पारी खेली। दबाव के चलते वह ताबड़तोड़ बल्लेबाजी नहीं कर पाए और ना ही किसी ने उनका सहयोग दिया। 

आंद्रे रसेल ने कुछ इस तरह बताई अपने शानदार प्रदर्शन की वजह

कुछ ऐसी थी रणनीति 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार किंग्स इलेवन पंजाब की टीम 8 विकेट के नुकसान पर 167 रन ही बना पाई। मैच खत्म होने के बाद लोकेश राहुल ने बताया कि यह हमारी रणनीति थी। क्रिस गेल और मुझ में से कोई एक 15-16 ओवर तक टिकना चाहता था जिससे कि कोई अन्य बल्लेबाज तेजी से रन बना सके। उन्होंने बताया कि इसका अर्थ यह नहीं कि आप ओपन शॉट नहीं खेलो। मैंने कई मौकों पर शॉट खेलने का प्रयास किया। उनमें से कुछ मौकों पर सफल नहीं हो पाया तो वहीं कुछ मौकों पर बाउंड्री मिली। हर बार T-20 में ऐसा नहीं होता है कि आप 20 गेंदों में अर्धशतक लगाएं।

यूगांडा पैरा बैडमिंटन टूर्नामेंट : भारतीय खिलाड़ियों ने जमाया इतने मेडलों पर कब्जा

अच्छी साझेदारीयां नहीं निभा पाए

जानकारी के मुताबिक इस मुकाबले में लोकेश राहुल ने की 141.07 की स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी की थी। उन्होंने शुरुआती 36 गेंदों में मात्र 39 रन बनाए थे। टीम को 15 रन प्रति ओवर की दर से रन बनाने थे। लोकेश राहुल ने बताया कि एक बल्लेबाज के तौर पर आपको हर वक्त धमाकेदार शुरुआत नहीं मिल पाएगी। हर मैच में आप 20 गेंदों में 50 रन नहीं बना सकते हैं। मैं जानता था कि क्रीज पर टिकने के बाद मैं उसका फायदा उठा पाऊंगा। हालांकि हम अच्छी साझेदारीयां नहीं निभा पाए। यही हमारी हार का कारण रहा।

चैम्पियंस लीग : आज होगा टॉटेनहैम हॉटस्पर और अजाक्स के बीच पहला सेमीफाइनल मुकाबला

IPL 2019 : आज होगा बैंगलोर और राजस्थान का आमना-सामना

पंजाब के मैच हारते ही मुजीब ने बना दिया एक ऐसा रिकॉर्ड

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -