IOB के मुनाफे में 936 करोड़ का घाटा

नई दिल्ली : हाल ही में खत्म हुए वित्त वर्ष 2016 की अंतिम तिमाही के दौरान इंडियन ओवरसीज बैंक को 936.2 करोड़ रुपये के नुकसान का सामना करना पड़ा है. जबकि साथ ही यह भी बता दे कि पिछले वर्ष में इसी माह अवधि के दौरान बैंक का मुनाफा 35.5 करोड़ रुपये देखा गया था.

साथ ही जानकारी में इस बात से भी अवगत करवा दे कि आलोच्य अवधि में इंडियन ओवरसीज बैंक की ब्याज आय 4.1 फीसदी की मजबूती के साथ 1308 करोड़ रुपये हो गई है. जबकि यह ब्याज आय वित्त वर्ष 2015 की चौथी तिमाही में 1256 करोड़ रुपये देखी गई थी. बैंक के ग्रॉस एनपीए की बात करे तो बता दे कि इस अलॉय अवधि में यह 12.64 फीसदी से आगे बढ़कर 17.4 फीसदी के स्तर पर पहुँच गया है.

जबकि साथ ही यह भी बता दे कि इंडियन ओवरसीज बैंक का नेट एनपीए इस अवधि के दौरान 8.32 फीसदी से बढ़कर 11.89 फीसदी पर पहुँच गया है. जानकारी में ही यह भी सुनने को मिला है कि बैंक की प्रोविजनिंग 1896 करोड़ रुपये से बढ़कर 2666 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुँच गई है. बीते वर्ष में यह प्रोविजनिंग 986 करोड़ रुपये देखने को मिली थी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -