सरकार रच रही अल्पसंख्यकों के विकास का नया इतिहास

Sep 05 2015 05:07 PM
सरकार रच रही अल्पसंख्यकों के विकास का नया इतिहास

मुंबई : अल्पसंख्यकों के मामले की मंत्री नजमा हेपतुल्ला द्वारा कहा गया कि मंत्रालय द्वारा भारत को विश्व की कौशल राजधानी बनाने और अल्पसंख्यकों को तरक्की की राह पर लाने का प्रयास किया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपनों को साकार करने की दिशा में कार्य किया गया। यही नहीं यह भी कहा गया कि पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद द्वारा शिक्षा को सदैव मानव विकास के रूप में देखा गया। दूसरी ओर भारत के नागरिक शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। 

मिली जानकारी के अनुसार मौलाना आजाद राष्ट्रीय कौशल अकादमी द्वारा आयोजित कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन समारोह में वे उपस्थितों को संबोधित कर रही थीं। इस दौरान उन्होंने कहा कि नजमा हेपतुल्ला द्वारा मौलाना आजाद के सपनों को सामने रखा गया। इस दौरान उन्होंने कहा कि मुंबई देश की आर्थिक राजधानी है यहां उद्यमशीलता के साथ व्यवसाय का चलन है। मानस के माध्यम से इसे साबित करना चाहता हूं। अल्पसंख्यकों को महिलाओं के सशक्तिकरण की बात करनी होगी। यही अल्पसंख्यकों के कल्याण के शुरूआत की नई बात होगी।