भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में बड़ी गिरावट, 35.3 करोड़ डॉलर फिसला

भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में बड़ी गिरावट, 35.3 करोड़ डॉलर फिसला

नई दिल्ली: लगातार कई दिनों तक उछाल के बाद पिछले सप्ताह देश के विदेशी मुद्रा भंडार में बड़ी गिरावट आई है. 11 सितंबर को समाप्त हुए सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 35.3 करोड़ डॉलर टूटकर 541.660 अरब डॉलर रह गया है. कोरोना महामारी के संकटकाल के बीच विदेशी मुद्रा भंडार ने सरकार का काफी साथ दिया है.

इससे पहले चार सितंबर को खत्म हुए सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 58.2 करोड़ डॉलर की बढ़त के साथ 542.013 अरब डॉलर पर पहुंच गया था. बता दें इस साल पांच जून को ख़त्म सप्ताह के दौरान देश का विदेशी मुद्रा भंडार पहली दफा 500 अरब डॉलर के पार गया था. पिछले सप्ताह ही लोकसभा में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया था कि देश का विदेशी मुद्रा भंडार 537 अरब डॉलर तक बढ़ गया है. उन्होंने बताया कि यह 19 महीने के इम्पोर्ट के लिए पर्याप्त है.

RBI के अनुसार 11 सितंबर को खत्म हुए सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (FCA) में 84.1 करोड़ डॉलर की गिरावट दर्ज की गई है, जिसका असर विदेशी मुद्रा भंडार पर नज़र आया है. बता दें कि FCA में डॉलर को छोड़ यूरो, पाउंड और अन्य मुद्राओं के भंडार में उतार-चढ़ाव के आंकड़ों को शामिल किया जाता है. इसका आंकलन भी डॉलर से होता है. समीक्षाधीन सप्ताह के अंत में देश का स्वर्ण भंडार 49.9 करोड़ डॉलर की बढ़त लेकर 38.02 अरब डॉलर पर जा पहुंचा है.

देश की ईंधन मांग में इस वर्ष 11.5 फीसद की गिरावट रहने के आसार

सरकार की बाहरी देनदारी पहुंची 558 अरब डॉलर के पार

सेबी ने मल्टीकैप फंड को लेकर लागू किए नए नियम