भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 7.4 फीसदी : रिपोर्ट

नई दिल्ली : देश में इस वर्ष मानसून के अच्छे रहने के अनुमान लगाए जा रहे है, जबकि इसके साथ ही यह भी सुनने में आया है कि वेतन आयोग की सिफारिश लागू होने के चलते उपभोक्ता व्यय में भी बढ़ोतरी हुई है. इसको देखते हुए चालू वित्त वर्ष के दौरान भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर को 7.4 फीसदी के स्तर पर रहने का अनुमान लगाया जा रहा है. आपको बता दे कि इस मामले में स्टैंडर्ड चार्टर्ड की एक रिपोर्ट सामने आई है जिसमे यह कहा गया है.

अधिक जानकारी उपलब्ध करवाते हुए आपको बता दे कि वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी ने यह भी कहा है कि देश की वृद्धि ग्रामीण मांग में वृद्धि पर टिकी हुई है. क्योकि निवेश पर आधारित विकास की गति वैश्विक स्तर पर चिंता के बीच आ सकती है.

इस दौरान स्टैंडर्ड चार्टर्ड से सामने आई रिपोर्ट से यह पता चला है कि वर्ष 2016-17 में निवेश को वृद्धि का मुख्य कारक के रूप में देखा जा रहा है. और इसको लेकर ही यह अनुमान पेश किया गया है कि इस दौरान GDP वृद्धि दर 7.4 फीसदी रहने वाली है. स्टैंडर्ड चार्टर्ड का यह कहना है कि वित्त वर्ष 2013-14 के बाद अब ऐसा पहली बार है कि अच्छी बारिश के चलते ग्रामीण मांग में मजबूती आएगी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -