चीन की चाल से 50 हजार से अधिक कर्मचारी हुए बेरोजगार

सूरत : हीरा व्यापार के लिए जाना जाने वाला यह शहर हमेशा से ही अपने बढ़ते कारोबार को लेकर सुर्ख़ियों में रहा है. यहाँ पर इस ग्लैमरस बिज़नेस ने अपने पैर इस कदर तक जमा लिए कि एक समय यह बात भी सामने आई थी कि यहाँ के व्यापारियों ने अपने कर्मचारियों को बोनस में ही कार और ज्वेलरी तक दे डाले थे. लेकिन अब यहाँ ऐसा आलम नहीं है, बताया जा रहा है कि इस वक़्त यह कारोबार कुछ कमजोर सा नजर आ रहा है और यही वजह है कि कई हीरा व्यापारियों को नुकसान का सामना करना पड़ रहा है.

मामले में बताया जा रहा है कि करीब 50,000 से भी ज्यादा हीरा कारीगरों को नौकरी खोना पड़ी है और कइयों को कम तनख्वाह में भी काम करना पड़ रहा है.कई ऐसे भी कर्मचारी है जो कम तनख्वाह पर काम करने को तैयार है लेकिन कम्पनी उन्हें काम देने को तैयार ही नहीं है. सूत्रों का यह मानना है कि इसके पीछे मुख्य वजह चीन की चाल है. गौरतलब है कि चीन की अर्थव्यवस्था में आये दिन गिरावट देखने को मिल रही है और इसके कारण ही कई ऐसी चीनी कंपनियां है जिन्होंने हीरे के व्यापर से तौबा कर ली है. इस कारण यहाँ हीरा व्यापार में कमी आ गई है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -