पैंगोंग झील में पैंतरे नहीं चल पाएगा चीन, गश्ती के लिए सेना ने खरीदे 12 हाई परफॉर्मेंस बोट

नई दिल्ली: इंडियन आर्मी 12 हाई परफॉर्मेंस पेट्रोलिंग बोट्स खरीदने जा रही है. इन पेट्रोलिंग बोट्स की तैनाती लद्दाख में पैंगोंग झील में की जाएगी. जहां से चीन की प्रत्येक गतिविधि पर भारत के जवान नज़दीक से नजर रख सकेंगे. लद्दाख में गत वर्ष मई से भारत और चीन के बीच टकराव की स्थिति बनी है. इन गश्ती नौका के आने से चीन की हरकतों पर नजर रख पाने की भारत की ताकत में वृद्धि होगी. 

खास बात ये है कि भारतीय सेना ने इन पेट्रोलिंग बोट्स को भारत की सरकारी कंपनी गोवा शिपयार्ड से खरीदने के लिए करार किया है. यानी कि इंडियन आर्मी रक्षा सौदों में आत्मनिर्भर भारत के पीएम मोदी की अपील पर काम कर रही है. भारतीय सेना ने कहा कि उसने ऊंचाई वाले क्षेत्रों में स्थित झीलों सहित बड़े जलाशयों में निगरानी और पेट्रोलिंग के लिए 12 तेज गश्ती नौकाओं की खरीद के लिए सरकारी उपक्रम गोवा शिपयार्ड लिमिटेड के साथ करार पर दस्तखत किया है. सेना ने ट्वीट करते हुए बताया है कि इन नौकाओं की डिलीवरी मई 2021 से आरंभ हो जाएगी. यानी कि मात्र 5 महीने बाद पैंगोंग झील में सुरक्षा परिदृश्य बदला बदला हुआ दिखाई देगा. 

आपको बता दें कि इस समय कड़ाके की सर्दियों की वजह से पैंगोंग झील जमी हुई है. यहां पर 3-4 महीने ऐसी ही स्थिति रहेगी. गर्मियों में जब झील पिघलेगी तो नई नौकाओं को पेट्रोलिंग के लिए तैनात कर दिया जाएगा. 

जाते-जाते गुड न्यूज़ दे गया 2020, दिसंबर के GST कलेक्शन ने तोड़े अब तक के सारे रिकॉर्ड

भुवेश्वर कुमार ने पास किया फिटनेस टेस्ट, जल्द ही इस टूर्नामेंट में खेलते आएँगे नज़र

मुकेश अंबानी को बड़ा झटका, SEBI ने रिलायंस इंडस्ट्रीज पर लगाया करोड़ों का जुर्माना

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -