आतंकियों को मारने के लिए सेना को खुली छूट हैः रक्षा मंत्री

नई दिल्ली : सीमा पार से लगातार हो रहे घुसपैठ को देखते हुए रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने सुरक्षा बलों को उन्हें मारने की खूली छूट दे दी है। आतंकवादी हमलों से निपटने के विषय में बात करते हुए पर्रिकर ने कहा कि आतंकवादियों को कुचलने के लिए सेना को खुली छूट दे रखी है और उसके हाथ नहीं बांधे हैं।

मोदी सरकार के कार्यकाल के दो वर्ष पूरे होने पर एक इंटरव्यू के दौरान पर्रिकर ने कहा कि सरकार ने केवल सेना के आधुनिकीकरण पर ही ध्यान नहीं दिया है, बल्कि मनोवैज्ञानिक रुप से भी उनका साथ दिया है, जिससे उनका मनोबल बढ़ा है। स्वंय पीएम नरेंद्र मोदी सेना के पीछे खड़े रहे है।

उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों की नीतियों के कारण बीते कुछ सालों में सेना का मनोबल कम हुआ था लेकिन अब स्थिति बदल गई है। हमारी सरकार सेना का मनोबल बढ़ाने में कामयाब रही है। प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी जिस तरह सेना के पीछे खड़े रहे, उससे सेना का मनोबल बढ़ा। देश की सुरक्षा और घुसपैठी आतंकवादियों से निपटने के लिए हमने सेना को खुली छूट दी है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -