इंडियन आर्मी ने फिर निकाली चीन की हेकड़ी, इस बार तवांग से खदेड़े 200 जवान - रिपोर्ट्स

ईटानगर: अरुणाचल प्रदेश के तवांग में कुछ दिन पहले चीनी सैनिकों की घुसपैठ को इंडियन आर्मी ने नाकाम करके बड़ी सफलता हासिल की थी। अब सरकारी सूत्रों के हवाले से मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि चीन के 200 सैनिक तिब्बत के रास्ते भारत में दाखिल हुए और खाली बंकरों को नुकसान पहुँचाने की कोशिश की। इसके बाद इंडियन आर्मी ने उनमें से कुछ सैनिकों को हिरासत में ले लिया।

यह घटना पिछले सप्ताह वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास बुम ला और यांग्त्से के सीमा दर्रे के बीच हुई थी। जहाँ चीनी घुसपैठ का भारतीय सैनिकों ने जमकर विरोध किया और कुछ PLA सैनिकों को कस्टडी में भी ले लिया। सूत्रों के अनुसार, मामले को बाद में स्थानीय सैन्य कमांडरों के स्तर पर सुलझाया गया। चीनी जवानों को रिहा कर दिया गया और स्थिति शांत हुई। पूरी घटना पर अभी सेना की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है। किन्तु, रक्षा और सुरक्षा सूत्रों ने बताया है कि भारतीय सुरक्षा बलों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत-चीन बॉर्डर का औपचारिक रूप से सीमांकन नहीं किया गया है। दोनों देशों की सीमा रेखा परसेप्शन पर आधारित है, जिसमें अंतर बताया जा रहा है। दोनों देश अपनी-अपनी धारणा के अनुसार, वहाँ पेट्रोलिंग करते हैं। इसके बाद दोनों देशों के बीच किसी प्रकार की असहमति या टकराव का प्रोटोकॉल के हिसाब से शांतिपूर्ण समाधान निकाला जाता है।  इससे पहले उत्तराखंड के बाराहोती क्षेत्र में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के लगभग 100 जवानों ने LAC का उल्लंघन किया था। वह 30 अगस्त को भारतीय सीमा में दाखिल हुए थे, किन्तु फिर लौट भी गए थे। अब इस इलाके में भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के जवान तैनात हैं।

फिर भड़की पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आग, जानिए आज का भाव

फिर से उछला शेयर बाजार, सेंसेक्स में हुई 488 अंक की बढ़त

GST की कमी को पूरा करने के लिए सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -