अच्छी खबर! US ने दी कोविशील्ड वैक्सीन को मंजूरी

नई दिल्ली: कोरोना महामारी से दुनियाभर के लोग ग्रसित है इस बीच संयुक्त राज्य अमेरिका नवंबर में उन सभी हवाई यात्रियों के लिए दोबारा से खुल जाएगा, जिन्हें कोरोना संक्रमण के खिलाफ पूर्ण रूप से टीका लगाया गया है। भारत उन 33 देशों में सम्मिलित है जहां से पूर्ण रूप से टीका लगाए गए लोगों को प्रवेश करने की मंजूरी होगी। प्रभावी तौर पर कोविशील्ड एकमात्र भारत निर्मित वैक्सीन है जो अब तक स्वीकृत टीकों की लिस्ट में है।

वही अमेरिका नवंबर से फ्रांस, जर्मनी, इटली, स्पेन, स्विटजरलैंड तथा ग्रीस के साथ-साथ ब्रिटेन, आयरलैंड, चीन, भारत, दक्षिण अफ्रीका, ईरान और ब्राजील समेत यूरोप के 26 शेंगेन देशों के पूर्ण रूप से वैक्सीनेटेड व्यक्तियों को हवाई यात्रा की मंजूरी देगा। इस कदम के ऐलान के तुरंत पश्चात् व्हाइट हाउस ने स्पष्ट किया कि कौन से टीके स्वीकार किए जाएंगे, इस पर आखिरी फैसला यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) पर निर्भर है। देश के शीर्ष चिकित्सा निकाय ने बताया है कि वह किसी शख्स को कोरोना संक्रमण के खिलाफ "पूरी तरह से वैक्सीनेटेड" तभी मानेगा जब उन्हें कोई एफडीए-अधिकृत जैब या WHO द्वारा अधिकृत टीका लगा होगा।

वही विदेशी नागरिकों को यात्रा से पहले टीकाकरण का सर्टिफिकेट प्रस्तुत करना होगा तथा आगमन पर क्वारंटाइन होने की जरुरत नहीं होगी। WHO द्वारा अब तक सिर्फ सात टीकों को इस्तेमाल के लिए अनुमोदित किया गया है। इनमें मॉडर्ना, फाइजर-बायोएनटेक, जॉनसन एंड जॉनसन, ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका, कोविशील्ड (ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका फॉर्म्युलेशन) तथा चीन की सिनोफार्म और सिनोवैक सम्मिलित हैं।

जानिए कौन हैं 27 वर्षीय सना रामचंद ? जो बनीं पाकिस्तान की पहली महिला हिंदू अफसर

स्पेन में 50 साल बाद भूकंप के झटकों से फटा ज्वालामुखी, तस्वीरों में देखें तबाही का भयावह मंजर

इजराइली पीएम बैनेट से बात करते हुए सो गए थे जो बाइडेन ? नेतन्याहू ने ऐसे ली चुटकी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -