जून 2022 तक पाक-चीन बॉर्डर पर एस-400 मिसाइल सिस्टम तैनात कर देगा भारत- अमेरिका के ख़ुफ़िया विभाग का दावा

नई दिल्ली: भारत ने पाकिस्तानी और चीनी खतरों से खुद को बचाने के लिए अगले महीने तक रूसी निर्मित एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम को तैनात करने का फैसला कर लिया है। यह जानकारी अमेरिकी रक्षा विभाग के हेडक्वार्टर पेंटागन ने दी है। इसके एक शीर्ष खुफिया अधिकारी ने बताया है कि पाकिस्तान और चीन के खतरे को देखते हुए अपने मुल्क की रक्षा के लिए भारत का इरादा जून 2022 तक एस-400 मिसाइल प्रणाली की तैनाती करने का है। 

उन्होंने कहा है कि भारत व्यापक सैन्य आधुनिकीकरण में लगा हुआ है जिसमें वायुसेना, थलसेना और नौसेना सहित रणनीतिक परमाणु बल शामिल हैं। अमेरिका की रक्षा खुफिया एजेंसी के डायरेक्टर, लेंफ्टिनेंट जनरल स्कॉट बेरियर ने अमेरिकी सांसद की सशस्त्र सेवा समिति के सदस्यों को इस संबंध में जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि भारत को गत वर्ष दिसंबर से रूस से एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम मिलने लगा है। 

बता दें कि अक्टूबर 2021 तक इंडियन आर्मी अपनी जमीनी और समुद्री सरहदों की रक्षा के लिए तथा साइबर क्षमताओं को बढ़ाने के लिए उन्नत निगरानी प्रणालियों की खरीद को लेकर विचार कर रही थी। बेरियर ने कहा कि, 'दिसंबर में भारत को रूसी एस-400 मिसाइल प्रणाली की प्रारंभिक खेप मिली है और पाकिस्तान तथा चीन से खतरे के मद्देनज़र भारत जून 2022 तक इस प्रणाली के संचालन की योजना बना रहा है।'

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने जैव ईंधन पर राष्ट्रीय नीति-2018 में संशोधनों को मंजूरी दी

गुजरात में नमक फैक्ट्री की दीवार गिरी, 12 लोगों की दर्दनाक मौत, कई घायल

रामनाथ कोविंद 'राष्ट्रीय महिला विधायकों' की बैठक का उद्घाटन करेंगे

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -