5000KM तक वार करने में सक्षम अग्नि-5 का सफल परिक्षण

दुनिया में सबसे तेजी से विकसित होते देश भारत ने आज देश की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए एक और मुकाम हासिल कर लिया है. अपने ही देश में विकसित नई बैलिस्टिक मिसाइल ‘अग्नि-5’ का सफल परिक्षण कर लिया है. अंतराष्ट्रीय दृष्टि से इसे भारत की एक बड़ी सफलता के तौर पर देखा जा रहा है. साथ ही इसमें कई ऐसी खासियत है जो भारत को टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में नए आयाम प्रदान करने में सहायक होगी. 

बैलिस्टिक मिसाइल ‘अग्नि-5’ सुबह करीब 9 बजकर 48 मिनट पर बंगाल की खाड़ी में डॉ. अब्दुल कलाम द्वीप पर एकीकृत परीक्षण रेंज (आईटीआर) के लांच पैड-4 से सचल प्रक्षेपक (मोबाइल लांचर) की मदद से भेजा गया था.  ‘अग्नि-5’ का यह छठ परिक्षण था जो पूरी तरह से सफल रहा साथ ही इस मिसाइल ने तय समय में निगरानी के बीच पूरी दुरी तय की. 

रक्षा सूत्रों के अनुसार बैलिस्टिक मिसाइल ‘अग्नि-5’ लम्बी दुरी तक परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है. मिशन के दौरान रडार, सभी ट्रैकिंग उपकरणों एवं निगरानी स्टेशनों से मिसाइल के हवा में प्रदर्शन पर नजर रखी गयी और उसकी निगरानी की गई. ‘अग्नि-5’ नौवहन एवं मार्गदशन, वार.हेड एवं इंजन के संदर्भ में नई टेक्नोलॉजी  से लैस अत्याधुनिक मिसाइल है. इस मिसाइल की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह 5000 किलोमीटर तक निशाना साध सकती है जो अपने आप में बहुत बड़ी बात है. 

AC ना चलने पर बीजेपी नेत्री ने डॉक्टर को चप्पलों से पीटा

चीनी आयात के खिलाफ महाराष्ट्र किसान आंदोलन

मोदी की तारीफों के पुल बांधने मे लगे योगी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -