UN में भारत ने गिनाए पाकिस्तान के पाप, मंदिर तोड़ने के मामले पर जमकर साधा निशाना

By Bhavesh Bakshi
Jan 22 2021 10:33 AM
UN में भारत ने गिनाए पाकिस्तान के पाप, मंदिर तोड़ने के मामले पर जमकर साधा निशाना

नई दिल्ली: अल्पसंख्यकों पर पाकिस्तान के पाखंड का भंडाफोड़ करते हुए भारत ने संयुक्त राष्ट्र (UN) में एक मौलवी की अगुवाई में कट्टरपंथियों द्वारा पाकिस्तान में हिंदू मंदिर को तोड़े जाने के मुद्दे को पुरजोर तरीके से उठाया। भारत ने कहा कि विश्व में आतंकवाद, हिंसात्मक अतिवाद, कट्टरपंथ और असहिष्णुता बढ़ रही है। इससे धार्मिक और सांस्कृतिक विरासत स्थलों में आतंकी गतिविधियों और तबाही का खतरा उत्पन्न हो गया है।

UN में भारत ने कहा कि पाकिस्तान के दोगलेपन का ताजा उदाहरण हाल ही में पाक के करक जिले में देखने को मिला। जहां दिसंबर 2020 में कट्टरपंथियों ने एक ऐतिहासिक हिंदू मंदिर पर हमला किया और कट्टरपंथी भीड़ ने उसे आग के हवाले कर दिया। इस मामले पर इमरान खान सरकार मूकदर्शक बनी रही। बता दें कि पाकिस्तान अक्सर UN में मुसलमानों को लेकर भारत को घेरने का प्रयास करता रहता है किन्तु इस बार भारत ने उसे सिखों और हिंदुओं पर जारी अत्याचारों की फेहरिस्त गिनवा दी।

भारत ने कहा कि, 'अफगानिस्तान में कट्टरपंथियों द्वारा भगवान बुद्ध की प्रतिमाएं तोड़े जाने की याद आज भी हमारे जेहन में हैं। आतंकियों ने अफगानिस्तान में सिखों के गुरुद्वारे पर कायराना हमला किया जिसमें 25 सिक्खों की मौत हो गई। हाल ही में पाकिस्तान के करक जिले में एक हिंदू मंदिर को भीड़ ने आग के हवाले कर दिया। वहां ऐसा प्रशासन के स्पष्ट समर्थन से किया गया। जब मंदिर को गिराया जा रहा था, उस वक़्त वहां का प्रशासन मूकदर्शक बनकर खड़ा हुआ था।'

अब न्यूज़ कंटेंट के बदले फ्रांस के प्रकाशकों को भुगतान करेगा गूगल, इस चीज पर बनी सहमति

आधे से ज्यादा विश्व को चाहिए मेड इन इंडिया वैक्सीन, इतने देशों ने किया भारत से सम्पर्क

हीरो मोटोकॉर्प ने 100 मिलियन यूनिट Xtreme 160R मॉडल हुआ लॉन्च