बार-बार गलत नक्शा दिखा रहा WHO, भारत ने तीसरी बार चेताया, कहा- फ़ौरन सुधारें गलती

बार-बार गलत नक्शा दिखा रहा WHO, भारत ने तीसरी बार चेताया, कहा- फ़ौरन सुधारें गलती

जेनेवा: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के नक्शों में भारत की सरहदों को बार-बार गलत तरीके से दिखाया जा रहा है। भारत ने इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए तीसरी बार अंतर्राष्ट्रीय संस्था को चेतावनी दी है। भारत ने WHO के चीफ टेड्रोस एडहानॉम को पत्र लिखकर गलती सुधारने के लिए कहा है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, भारत ने पत्र में बेहद कड़े लहजे में कहा है कि गलत नक्शे को तत्काल सुधार लिया जाए। 

बता दें कि भारत की ओर से पिछले एक महीने में WHO को तीसरी बार इस मुद्दे पर पत्र लिखा गया है। इससे पहले, दिसंबर में दो बार WHO चीफ को पत्र लिखा जा चुका है। पिछले सप्ताह संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के स्थायी प्रतिनिधि इंद्र मणि पांडेय ने WHO चीफ को इस संबंध में जानकारी दी थी। अब भारत ने कहा है कि WHO के पोर्टल्स पर मौजूद वीडियो और नक्शों में उसकी सीमाओं को ठीक से नहीं दर्शाया जा रहा है। 8 जनवरी को WHO प्रमुख को लिखी चिट्ठी में उन्होंने लिखा कि, ''मैं WHO के विभिन्न वेब पोर्टल्स पर नक्शों में भारत की सीमाओं को गलत ढंग से दर्शाए जाने पर बेहद नाराजगी प्रकट करता हूं।' 

उन्होंने आगे लिखा कि 'इस मामले में मैं WHO को भेजे गए हमारे पिछले संदेशों की भी याद दिलाना चाहूंगा, जिनमें हमने इन्हीं गलतियों ले बारे में बात की थी। मैं आपसे इस मामले में फ़ौरन दखल देखकर भारत की सरहदों को गलत ढंग से प्रदर्शित करना बंद करवाने की गुजारिश करता हूं। कृपया सही मानचित्रों का इस्तेमाल करें।"

दुनिया का सबसे तेजी से विकसित टेक हब बना बेंगलुरु: रिपोर्ट

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने की कैपिटल हिंसा की निंदा, कहा- दंगाइयों को दी जाएगी सजा

मेक्सिको ने कोरोना के खिलाफ शुरू किया टीकाकरण