भारत-इजराइल के सम्बन्ध में दोनों देश है साझेदार

नई दिल्ली: हाल में भारत यात्रा पर आये इजराइल के राष्ट्रपति रियूवेन रिवलिन की यात्रा का आज भारत में दूसरा दिन है. जिसमे दोनों देशो के प्रधानमंत्री के बिच बात चित के जरिये कई समझौतों पर बात बनी. दोनों देशों की सयुंक्त प्रेस वार्ता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इजराइल के राष्ट्रपति का स्वागत करना सम्मान की बात बताई. उन्होंने बताया कि दोनों देशो के सम्बन्ध बहुआयामी है. व दोनों देश एक दूसरे के साझेदार है. 

प्रधानमंत्री मोदी ने पढ़ाई के लिए इजराइल जाने वाले भारतीय छात्रों की बढ़ती संख्या को भी संबंधों का एक अच्छा सूचक बताया है. वही उन्होंने इन संबंधों को नए आयामो के साथ आगे ले जाने की बात कही है. 

इजराइल के राष्ट्रपति ने भी भारत की मेजबानी पर कहा कि मैं अपनी दिल की गहराई से आपका धन्यवाद करना चाहता हूं. उन्होंए अपने  इस भारत दौरे को घर जैसी यात्रा बताया है. उन्होंने आगे कहा कि इजराइल और भारत को आतंक से धमकी मिलती है क्योंकि हम स्वतंत्रता के मूल्यों को बनाए रखना चाहते हैं. इसके साथ ही इजराइल के राष्ट्रपति रियूवेन रिवलिन ने आतंकवाद को खत्म करने कि बात कही.

इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर भी निशाना साधा और पाकिस्तान को आतंकवाद का मूल प्रसार केंद्र कहा.

नोट बंदी पर मोदी की मीटिंग, 500 व 1000 के नोटों की..

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -