कोरोना महामारी के चलते भारत में सोने की डिमांड घटी, इम्पोर्ट में भारी गिरावट

कोरोना महामारी के चलते भारत में सोने की डिमांड घटी, इम्पोर्ट में भारी गिरावट

नई दिल्ली: सोने का इम्पोर्ट चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही (अप्रैल-सितंबर) के दौरान 57 फीसद घटकर 6.8 अरब डॉलर या 50,658 करोड़ रुपये रहा है। वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों से इस संबंध में जानकारी मिली है। कोरोना महामारी के बीच मांग में गिरावट की वजह से सोने के आयात में कमी आई है। बता दें कि सोने का इम्पोर्ट देश के चालू खाते के घाटे को प्रभावित करता है। 

इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में सोने का इम्पोर्ट 15.8 अरब डॉलर या 1,10,259 करोड़ रुपये रहा था। इसी तरह अप्रैल-सितंबर के दौरान चांदी का आयात भी 63.4 फीसद कम होकर 73.35 करोड़ डॉलर या 5,543 करोड़ रुपये रह गया। सोने और चांदी के आयात में कमी से देश का चालू खाते का नुकसान कुछ कम हुआ है। आयात और निर्यात के बीच अंतर को कैड कहा जाता है। अप्रैल-सितंबर में कैड कम होकर 23.44 अरब डॉलर रह गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान मियाद में 88.92 अरब डॉलर रहा था।

बता दें कि भारत विश्व के सबसे बड़े सोना आयातकों में से है। यहां सोने का इम्पोर्ट  मुख्य रूप से आभूषण उद्योग की मांग को पूरा करने के लिए किया जाता है। भारत वार्षिक 800 से 900 टन सोने का आयात करता है। चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में रत्न एवं आभूषणों का एक्सपोर्ट 55 फीसद घटकर 8.7 अरब डॉलर रहा।

पवन सिंह और अक्षरा सिंह के गाने ने तोड़े रिकॉर्ड, ताबड़तोड़ हो रहा है वायरल

पेटीएम यूजर्स के लिए बुरी खबर, अब क्रेडिट कार्ड से वॉलेट में पैसा जोड़ने पर देना होगा अलग शुल्क

जानिए क्या है आज पेट्रोल-डीजल के नए रेट्स