भारत-चीन के बीच फिर गहराया तनाव, गालवान इलाके में सैन्य गतिविधियां बढ़ीं

नई दिल्ली: भारत और चीन के फील्ड कमांडर लद्दाख के लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर गालवान नाला एरिया में जारी तनाव को सुलझाने के लिए वार्ता कर रहे हैं. दरअसल, चीन, उत्तरी लद्दाख के इस इलाके पर अपना कब्जा जताना चाहता है. सरकारी सूत्रों के अनुसार इस इलाके में हो रहे भारतीय निर्माण कार्य पर चीन विरोध कर रहा है.

वहीं भारत इस इलाके में निरंतर निर्माण कार्य कर रहा है. चीनी वायुसेना के कुछ विमान भारतीय पेट्रोलिंग प्वाइंट के पास भी बीते दिनों में चक्कर लगा चुके हैं. भारतीय सेटेलाइट और खुफिया एजेंसियों ने इस बात का खुलासा किया है कि चीन ने भी बॉर्डर से सटे कुछ इलाकों में कई सड़कों का निर्माण किया है. ये सभी सड़कें भारतीय पेट्रोलिंग प्वाइंट के काफी करीब हैं. ये सड़कें भी गालवान नदी के नजदीक हैं, जो श्योक नदी की सहायक नदी है.

सूत्रों के अनुसार दौलत बेग ओल्डी सेक्टर में 81 ब्रिगेड के अधिकारियों और उनके चीनी समकक्षों के बीच मीटिंग जारी हैं. दोनों ही सेनाओं ने इस क्षेत्र में अपनी सैन्य गतिविधियां बढ़ा दी हैं. गालवान नाला क्षेत्र में लागतार निर्माण कार्य बढ़ने के कारण दोनों देशों की सेनाओं में तनाव बढ़ गया हैं. सूत्रों का दावा है कि पहले चीन ने इस एरिया में रोड बनाना शुरू किया, जिसके बाद भारतीय सेना ने इस इलाके में सैन्य गतिविधि बढ़ाई और एलएसी के करीब सड़कों का निर्माण शुरू किया.

मोदी सरकार के राहत पैकेज पर RBI निदेशक ने उठाए सवाल, कही ये बात

इमरान खान का बेतुका बयान, भारत कभी भी कर सकता है पाकिस्तान पर हमला

शेयरचैट ने दिया बड़ा झटका, 101 कर्मचारीयों को कंपनी से किया बाहर

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -