राजनाथ सिंह का लेह दौरा टला, जानें क्या है वजह

Jul 02 2020 04:10 PM
राजनाथ सिंह का लेह दौरा टला, जानें क्या है वजह

बीते दिनों गलवन घाटी में भारत और चीनी सैनिकों के बीच हिंसक छड़प हुई है. जिसके बाद भारत और चीन के रिश्ते खराब हो गए है. वही, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कल लेह का दौरा करने वाला थे. उनका यह दौरा टल गया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इसकी जानकारी रक्षा अधिकारियों के हवाले से दी है. गौरतलब है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) तनाव के मद्देनजर पूर्वी लद्दाख में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करने के लिए लेह जाने वाले थे. इस दौरान उनके साथ सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे भी मौजूद रहने वाले थे. वह इस दौरे के दौरान स्थानीय सैन्य कमांडरों के साथ एलएसी पर टकराव और सैन्य तैनाती की समीक्षा करने के साथ-साथ गलवन घाटी में चीनी सैनिकों को खदड़ने वाले घायल बहादुर सैनिकों से भी मिलने वाले थे. 

यह राज्य कोरोना मरीजों के लिए बनाने वाला है 1 लाख बेड

दोनों देशों की सेनाओं के बीच बीते काफी समय से तनातनी का माहौल है. जिसका कम करने के लिए सरकार प्रयास कर रही है. बता दे कि ये रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की पहली लद्दाख यात्रा होती. राजनाथ सिंह अपनी यात्रा के दौरान, जनरल नरवणे, उत्तरी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल योगेश कुमार जोशी, 14 कोर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और अन्य वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के कमांडर के साथ इस क्षेत्र में सुरक्षा स्थिति की व्यापक समीक्षा करने वाले थे.

बर्खास्त DSP दविंदर सिंह के खिलाफ अगले हफ्ते चार्जशीट, NIA ने तैयार की लिस्ट

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सेना प्रमुख नरवणे भी लद्दाख का दौरा कर चुके है. उन्होने यह दौरा 23 और 24 जून के बीच किया था. जिस समय उन्होंने सेना के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक की थी. साथ ही, पूर्वी लद्दाख में विभिन्न क्षेत्रों का दौरा भी किया. जनरल नरवणे ने इससे पहले 22 मई को लेह का दौरा किया था. गौरतलब है कि भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच पिछले सात हफ्तों से जारी तनातनी के बीच चीनी और भारतीय सेना में 15 जुलाई को गलवन घाटी में हिंसक झड़प हुई. इस दौरान भारत के 20 जवानों ने बहादुरी का अप्रतिम परिचय देते हुए बलिदान दे दिया था. चीनी सेना को भी इस झड़प में भारी नुकसान हुआ. हालांकि , उसने अपने सैनिकों के मारे जाने या घायल होने की जानकारी नहीं दी है. इसके बाद से दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ गया. 

अब बॉर्डर पर दम दिखाएंगे 'ट्रांसजेंडर्स' ! गृह मंत्रालय दे सकता है बड़ी जिम्मेदारी

प्रियंका को यूपी का सीएम कैंडिडेट बनाए जाने की मांग तेज़, कार्ति बोले- यहीं से होगी कांग्रेस की वापसी

भोपाल में रात दस बजे तक खुल सकेंगी दुकानें, कार में क्षमता मुताबिक बैठा सकेंगे सवारी