नीरव मोदी की मुश्किलें बढ़ीं, भारत ने लंदन कोर्ट में पेश किए सबूत

लंदन: बैंक धोखाधड़ी और मनी लॉन्डरिंग के आरोपों से घिरे हीरा व्यापारी नीरव मोदी से संबंधित कंपनियों से संबद्ध तथाकथित 'नकली निदेशकों' द्वारा बनाए गए वीडियो में चोरी में फंसाए जाने या हत्या करवाए जाने की धमकी जैसे आरोप इल्जाम लगे हैं। केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने यह वीडियो नीरव के खिलाफ चल रही प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई के दौरान ब्रिटेन की एक अदालत में पेश किया है।

इस हफ्ते सुनवाई के दौरान लंदन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की कोर्ट में दिखाए गए इस वीडियो में छह भारतीयों को सुना जा सकता है। उनमें से हरेक ने दुबई छोड़ने और मिस्र के काहिरा आने के लिए विवश किए जाने के आरोप लगाए हैं। उनके मुताबिक, वहां उनके पासपोर्ट जब्त कर लिए गए और उन्हें उनकी मर्जी के विरुद्ध नीरव के भाई नेहाल मोदी ने संदिग्ध दस्तावेज़ों पर कथित रूप से हस्ताक्षर कराए। 

एक व्यक्ति वीडियो में कह रहा है कि, 'मेरा नाम आशीष कुमार मोहनभाई लाड है, मैं सनसाइन जेम्स लिमिटेड, हांगकांग और दुबई के यूनिटी ट्रेडिंग फजे में हमनाम मालिक हूं।' उसने आगे कहा कि, 'नीरव मोदी ने मुझे फोन किया और मुझसे कहा कि वह मुझे चोरी में फंसा देगा। उसने भद्दे शब्द इस्तेमाल किए... मुझसे कहा कि वह मुझे मरवा डालेगा...।' यह वीडियो जून, 2018 का बताया जा रहा है।

सिर्फ 24 घंटों में 134 लोगों ने गवाई जान, तेजी से बढ़ रहा संक्रमण

श्रम कानून कमजोर करने को लेकर कई राज्यों की मुश्किलें बड़ी

इन राज्यों में तबाही मचा सकता है कोरोना, मिले खतरनाक संकेत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -