हिंदुस्तान हिन्दुओं का, दुनिया का कोई भी हिन्दू यहाँ आकर रह सकता है - हिमंत सरमा
हिंदुस्तान हिन्दुओं का, दुनिया का कोई भी हिन्दू यहाँ आकर रह सकता है - हिमंत सरमा
Share:

नई दिल्ली: अपनी हिंदूवादी छवि को लेकर हमेशा मुखर रहने वाले असम के सीएम और भाजपा नेता हिमंता बिस्वा सरमा ने अपने हालिया बयान में कहा है कि भारत का ताल्लुक हिंदुओं से है, फिर चाहे वो दुनिया के किसी भी कोने में रहने वाले हिंदू हों। यदि उन्हें यहाँ सुरक्षित महूसस होता है, तो वो यहाँ आकर रह सकते हैं। एक TV कार्यक्रम में हिमंता बिस्वा ने बुधवार (10 नवंबर 2021) को ये बातें कहीं। जब उनसे  पूछा गया कि क्या वो बांग्लादेश के बंगाली हिंदुओं को भारत की नागरिकता देने और उन्हें असम में बसाने की बात का समर्थन करते हैं।

इस पर सरमा ने कहा कि, 'भारत हिंदुओं से संबंध रखता है। प्रत्येक हिंदू का अधिकार है कि जब भी उन्हें लगता है कि वो वहाँ सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे तों वो भारत आकर रहने लगें।' सीएम सरमा ने आगे कहा कि, 'भारतीय शब्द 1947 में अस्तित्व में आया, किन्तु 7000 वर्षों से हम हिंदुओं के रूप में जाने जाते हैं। मैं सभ्यता में यकीन रखता हूँ। ये सनातन सभ्यता है। जब हमें संविधान मिला तो ये भारत कहलाया। मगर आप हमें हमारी जड़ों से नहीं अलग कर सकते। प्रत्येक हिंदू जो मुश्किल में हैं, उनके पास उनकी मातृभूमि है कि वो भारत वापस आ जाएँ।'

बाहरी देशों में रहने वाले हिंदुओं के भारत आने और यहाँ उन्हें बसाने के मुद्दे पर अपना पक्ष एकदम स्पष्ट करने के बाद सीएम सरमा ने कहा कि अफगानिस्तान में जो कुछ भी घटा, उसे देखने के बाद भारत में किसी को भी CAA और NRC का विरोध नहीं करना चाहिए, जहाँ अल्पसंख्यकों को देश छोड़ पलायन करना पड़ा। उन्होंने कहा कि, 'मुझे यकीन है कि अब CAA पास होने की प्रशंसा हो रही होगी।'

हिंदुत्व को 'आतंकी' बताने वाले मानसिक रोगी, देश का अपमान कर रही कांग्रेस - इंद्रेश कुमार

यमुना को साफ करना मेरी जिम्मेदारी, मैं इसे साफ़ करूंगा... लेकिन अगले चुनाव तक - अरविन्द केजरीवाल

मुंबई पुलिस ने दर्ज किया समीर वानखेड़े का बयान, नवाब मलिक के आरोपों पर शुरू हुई जांच

रिलेटेड टॉपिक्स