ठंड से बढ़ी ठिठुरन, धुंध की चादर में समाई दिल्ली

Dec 08 2018 09:22 AM
ठंड से बढ़ी ठिठुरन, धुंध की चादर में समाई दिल्ली

नई दिल्ली: देश में इस समय ठंड अपने पूरे सबाव पर चढ़ती नजर आ रही है। दिसंबर के पहले हफ्ते से ही ठंड का असर दिखाई देने लगा है। जानकारीे के अनुसार बता दें कि दिसंबर महीने की शुरुआत होते ही राजधानी दिल्ली में सर्दी ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। वहीं बता दें कि तापमान लगातार गिर रहा है और दिल्ली सुबह, शाम कोहरे की चादर में लिप्टी हुई नजर आ रही है। इसके साथ ही शनिवार सुबह सफदरगंज इलाके में तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि विजिबिलिटी 0.5 रही। वहीं बता दें कि पालम इलाके में तापमान 9 डिग्री रहा, विजिबिलिटी 0.5 रही।

शीतकालीन सत्र: कामकाज की सुगमता के लिए सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

वहीं बताया जा रहा है कि दिल्ली की वायु गुणवत्ता शुक्रवार को भी बहुत खराब श्रेणी में रही है। इसके  साथ ही शुक्रवार को कुल वायु गुणवत्ता सूचकांक 346 दर्ज किया गया। यहां बता दें कि हवा की धीमी गति जैसी मौसम परिस्थितियों के कारण शहर में चार इलाकों में वायु गुणवत्ता गंभीर दर्ज की गई। मुंडका, नेहरू नगर, रोहिणी और वजीरपुर में वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में दर्ज की गई है। वहीं सीपीसीबी के आंकड़ों के अनुसार, एनसीआर में गाजियाबाद, फरीदाबाद और नोएडा में वायु गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में दर्ज की गई।

कहां से आती है वोट देने के बाद लगाई जाने वाली स्याही? आप भी जान लीजिये

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण ईपीसीए ने दिल्ली-एनसीआर में राज्य और केंद्र सरकार के अधिकारियों द्वारा टैक्सी के रूप में किराए पर ली गई निजी डीजल गाड़ियां के इस्तेमाल पर चिंता जताई। वहीं बता दें कि ईपीसीए ने शुक्रवार को कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों के कई अधिकारी दिल्ली तथा एनसीआर के भीतर आने-जाने के लिए टैक्सी के तौर पर किराये पर ली निजी डीजल गाड़ियों का इस्तेमाल कर रहे हैं तथा उसने इसके लिए स्पष्टीकरण मांगा है। 
खबरें और भी

सोनिया गाँधी के दामाद वाड्रा के तीन ठिकानों पर ईडी का छापा

रावी नदी पर बांध बनाने के मोदी सरकार ने दी हरी झंडी

सर्दियों में बढ़ सकती है अस्‍थमा के रोगियों की संख्या, रखें कुछ बातों का ध्यान