बजट सत्र के भाषण में राष्ट्रपति ने सरकार के कार्यो पर प्रकाश डाला

बजट सत्र के भाषण में राष्ट्रपति ने सरकार के कार्यो पर प्रकाश डाला

आज बजट सत्र को शुरुआत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के भाषण से हुई. उन्होंने कहा कि ''सरकार ने किसानों के लिए कई काम किये हैं. सरकार की नीतिया किसानों का भला कर रही हैं. 2022 तक किसान की आय दुगुनी करने का लक्ष्य हैं. हर संभव प्रयास से किसानों के हितो की रक्षा की जा रही हैं. 80 लाख बुजुर्गो के लिए पेंशन योजना लागु की गई हैं. इंटरनेट के बढ़ावे से देश का चहुँमुखी विकास हो रहा हैं. समाज के हर तबके को सरकार आगे बड़ा रही हैं. बिजली, पानी, सड़क, भोजन, शिक्षा, स्वास्थ सुविधाओं और आवास को हर व्यक्ति तक पहुँचाना सरकार की प्राथमिकता हैं. ''

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि ''दिवयांगो को भी सामान अधिकार दिए हैं. 9 लाख दिव्यांगों को सरकारी नौकरियां दी गई. दिव्यांगों को अब 5 फीसदी आरक्षण दिया जा रहा हैं. सस्ती दवाओं से गरीबों का भला किया जा रहा हैं. 3 हजार केन्द्रो के दवारा 800 प्रकार की सस्ती दवाइयों का वितरण किया जा रहा हैं. कौशल विकास योजना से देश का युवक लाभान्वित हुआ हैं.

राष्ट्रपति ने कहा किसरकारी काम काज आन लाइन हुआ हैं जिससे पारदर्शिता बड़ी हैं. 400 से ज्यादा योजनाएं आन लाइन हैं. देश मे 113 मोबाइल कम्पनिया हैं. खेलो के लिए 1750 करोड़ रुपए से खेलो इंडिया का आयोजन किया गया हैं. जिससे खेल प्रतिभाएं सामने आये और देश का गौरव बढ़ाये. स्पोर्ट्स टेलेंट पोर्टल भी इसी क्रम में किया गया काम हैं.

राष्ट्रपति ने कहा वसुधैव कुटुम्बकम् भारत की परंपरा

पद्म विभूषण-पद्मश्री-अशोक चक्र-कीर्ति चक्र-शौर्य चक्र की घोषणा

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का राष्ट्र के नाम सन्देश