बलात्कार के मामलो में पुलिस होगी सख्त, 15 दिन में होगा चालान पेश

Sep 27 2015 01:23 AM
बलात्कार के मामलो में पुलिस होगी सख्त, 15 दिन में होगा चालान पेश

भोपाल। प्रदेश में महिलाओं के साथ होने वाली वारदातो को देखते हुए पुलिस बल को अधिक संवेदनशील बनाने के लिए सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को विशेष निर्देश दिए गए हैं। डीजीपी सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि महिलाओं के खिलाफ अपराधों में और अधिक संवेदनशीलता, सक्रियता एवं तत्परता से कार्रवाई की जाए तथा बलात्कार के मामलों में तफ्तीश पूरी करके 15 दिन के अंदर चालान पेश करें। उन्होंने बच्चों के साथ होने वाले अपराधों के मामलों में भी हिदायतें दी हैं।

यहां शनिवार को जारी निर्देश में सिंह ने कहा कि महिलाओं के साथ हो रहे अपराधो घटित अपराधों के प्रति जीरो टालरेंस की नीति अपनाई जाए, महिलाओं के विरुद्ध अपराधों का शत-प्रतिशत पंजीयन तथा बलात्कार के प्रकरणों में वैज्ञानिक तकनीक से अनुसंधान और विवेचना पूरी कर 15 दिन में चालान पेश किया जाए। उन्होंने कहा कि नाबालिग बच्चों के साथ लैंगिक अपराध की स्थिति में बालकों के लैंगिक शोषण से संरक्षण अधिनियम के तहत कार्रवाई करें।

पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिया गया कि अपराध से पीड़ित या पीड़ित के आश्रित को, जिन्हें अपराध की वजह से हानि या क्षति हुई है, उसमें प्रतिकर संबंधी कार्रवाई के लिए तत्काल मप्र अपराध पीड़ित प्रतिकर योजना के प्रावधानों का पालन करें।