'कोरोना वैक्सीन नहीं, तो स्कूल में एंट्री नहीं..', 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के टीकाकरण पर बोले अनिल विज

चंडीगढ़: हरियाणा में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के लिए बिना कोरोना वैक्सीन लगवाए स्कूलों में प्रवेश करने की इजाजत नहीं होगी। हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि जब भी स्कूल वापस खुलेंगे, तब उन्हीं बच्चों को स्कूल में प्रवेश की इजाजत रहेगी, जिन्होंने कोरोना का टीका लगवाया होगा।

इसके साथ ही उन्होंने अभिभावकों से अपील की है कि सभी अपने बच्चों को कोरोना का टीका लगवाएं और कोरोना से बचाव को सुनिश्चित करें। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश की खट्टर सरकार ने 26 जनवरी तक सभी स्कूल और कॉलेज बंद रखने के आदेश दे रखे हैं। शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने सरकार के इस आदेश का ऐलान किया था। हालांकि, स्कूलों की छुट्टियों के दौरान ऑनलाइन पढ़ाई चल रही है। 

उन्होंने कहा था कि स्कूल-कॉलेज आगामी परीक्षाओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए ऑनलाइन पढ़ाई कराएंगे। शिक्षा मंत्री ने कहा था कि बच्चों को अभी स्कूल बुलाकर कोई खतरा नहीं उठा सकते। मार्च महीने में एग्जाम होनी हैं। इस बार आठवीं की बोर्ड एग्जाम होगी, उसे देखते हुए शिक्षक पूरी तन्मयता के साथ ऑनलाइन पढ़ाई करवाएं और साथ ही बच्चों का मूल्यांकन भी करें। कोरोना के केस और बढ़ने पर छुट्टियां आगे बढ़ाई जा सकती हैं। 

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

फर्म में निवेशकों को गुमराह करने के आरोप में इस कंपनी के संस्थापक को 26 सितंबर को होगी जेल

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -