दुल्हे ने मांगी कार तो दुल्हन से भी धोया हाथ

Oct 07 2015 12:58 PM
दुल्हे ने मांगी कार तो दुल्हन से भी धोया हाथ

इंदौर : हाल ही में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें दहेजलोभी दुल्हे की छुट्टी कर दी गई है। इस दुल्हन को एक नया दुल्हा मिल गया और वह खुश हो उठी। दरअसल बारात द्वारा दहेज में कार की मांग की गई थी। जब यह मांग दुल्हन के परिजन ने सुनी तो वे परेशान हो उठे। उनकी समझ में नहीं आया कि वे क्या करेंगे। मगर जब उनके लाख मनाने पर भी बात नहीं बनी तो थाने में शिकायत दर्ज करवाई गई। इस दौरान दुल्हन के निकाह के लिए फिर से चर्चा चली और आधे ही घंटे में दूसरा दुल्हा भी तैयार हो गया।

मिली जानकारी के अनुसार किराना दुकान के संचालक फरीद शाह की बेटी तमन्ना निवासी अशर्फी नगर खजराना का रिश्ता अब्दुल हफीज शाह निवासी बैंक नोट प्रेस देवास से रिश्ता तय हुआ। दोनों का निकाह होना था। जब दुल्हन पक्ष के लोग रस्में पूरी करने के बाद वे इंतजार कर रहे थे तो बारात वहां नहीं पहुंची। मगर दूल्हे के पिता अजीज को फोन किया गया। इस दौरान सभी की कुशल क्षेम पूछी गई। मगर इसी दौरान उन्होंने बारात न लाने की बात कही। दूसरी ओर दुल्हे की मां ने अपने बेटे की मांग पूरी न होने की बात पर शादी नहीं करने की बात कही है।

मिली जानकारी के अनुसार तमन्ना के पिता हफीज के अनुसार 14 सितंबर को फरीद से उसका रिश्ता तय हुआ था। यही नहीं उन्होंने 11 हजार नकद, सोने की अंगूठी, सूट दिए गए। रिश्तेदारों को कपड़े दिए गए। फरीद ने इस मसले पर कहा कि उन्हें गाड़ी देना चाहिए। यही नहीं यासिन से कर्ज लेकर बाईक लाई गई। दूसरी ओर यह भी कहा गया कि विवाह वाले घर में बाईक खड़ी कर दी गई। जिस पर फरीद ने कार दिए जाने की मांग की। उसने कहा कि यदि कार नहीं दे सके तो 4 लाख कैश की व्यवस्था करो।

इस मामले में यह बात भी कही गई कि सलीम मंसूरी, भेरूलाल और खजराना थाने में वे पहुंचे। शादी वाले घर में अचानक सन्नाटा छा गया। ऐसे में भाई हनीफ ने अपने साले रमजान के बेटे शरीफ के साथ तमन्ना के विवाह की बात की। इस मामले में वे राजी हो गए। काजी द्वारा निकाह करवा दिया गया। रमजान के अनुसार वें विवाह में शामिल होने पहुंचे। बता दे कि शरीफ और तमन्ना के विवाह को लेकर पहले भी बात चली थी, लेकिन विभिन्न कारणों से उनकी सगाई नहीं हो सकी।