आजमगढ़ में धड़्डले से चल रहा था लोगों के धर्म परिवर्तन का काम....VHP की शिकायत पर 3 हुए गिरफ्तार

लखनऊ: यूपी के आजमगढ़ में बड़े पैमाने पर महिलाओं और पुरुषों को जुटाकर धर्म परिवर्तन करवाने का इल्जाम भी लगा दिया है. इस केस में विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने पुलिस को जानकारी दे दी है, इसके उपरांत पुलिस ने इस केस में तीन मुख्य लोगों को हिरासत में ले चुके है. आजमगढ़ शहर कोतवाली के हरबंशपुर क्षेत्र में एक मकान में बड़े पैमाने पर महिलाओं और पुरुषों को जुटाकर धर्म परिवर्तन करवाने का इल्जाम लगाया गया है. इल्जाम है कि उन्हें ईसाई धर्म का पाठ पढ़ाने का काम कर रहे है. विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने इसकी जानकारी पुलिस को दी, इसके उपरांत  पुलिस ने कार्यक्रम स्थल पर रेड मारी. जिसमें पता चला कि इसमें 100 से अधिक लोग जुटे हुए थे और धार्मिक पाठ करने में लगे हुए थे. पुलिस ने इस केस में 3 मुख्य लोगों को हिरासत में लिया है और उन्हें कोतवाली लेकर पहुंचे.  

काफी दिनों से मिल रही थी शिकायत: विश्व हिंदू परिषद के आजमगढ़ के महामंत्री गौरव रघुवंशी ने इस बारें में कहा है कि "धर्म परिवर्तन को लेकर बहुत दिनों से शिकायत मिल रही थी, जोकि पूरी तरह गैरकानूनी है. भोली जनता को लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन करने का काम किया जा रहा था, जबकि इसके खिलाफ सरकार भी सख्त है. ऐसी चीजों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. हमारी मांग है कि इन लोगों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई हो और भविष्य में कोई इस तरह का काम दोबारा न करे." गौरव रघुवंशी ने बोला है कि इन लोगों के विरुद्ध आजमगढ़ कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है. 

यूपी एटीएस ने किया था दो आरोपियों को गिरफ्तार: उत्तर प्रदेश में पहले भी कई जगहों से धर्म परिवर्तन की शिकायत सामने आई है. यूपी ATS ने बीते वर्ष जामिया नगर क्षेत्र से दो आरोपियों को हिरासत में लिया था, इन पर आरोप है कि इन्होंने मूक बधिर महिलाओं और बच्चों का धर्म परिवर्तन कराया है. पुलिस के अनुसार, ये गिरोह साल में 200 से 300 लोगों का धर्म परिवर्तन कराता था.

दो गर्लफ्रेंड के चक्कर में बावला हुआ पति, गर्भवती पत्नी का कटा गला

60 की उम्र में 48 की महिला संग हुआ प्यार, ब्रेकअप के बाद फेंका तेजाब

ससुर के प्यार में डूबी बहू, पति और 2 बच्चों को छोड़ हुई फरार

Most Popular

- Sponsored Advert -