इमरान खान अब 'सादिक' और 'आमीन' नहीं रहे

पाकिस्तान में क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान की पूर्व पत्नी रेहम खान ने अपनी किताब में लिखा है कि इमरान खान समलैंगिक हैं. इमरान खान की पत्नी रहीं रेहम खान की आत्मकथा में उन्होंने अपने इस पूर्व क्रिकेटर पति के बारे में और पाकिस्तान की राजनीतिक में भूचाल लेन जैसा कुछ लिख दिया है. पाकिस्तान के संविधान की धारा 62 कहती है कि देश के हर सांसद को 'सादिक' और 'आमीन' होना चाहिए जिसका अर्थ होता है 'विश्वास के योग्य' और 'ईमानदार'. संविधान की इस धारा के दम पर विपक्षी इमरान को घेरना चाहते हैं.

इन सब के बीच  रेहम खान ने कहा है कि अभी उनकी किताब को बाजार में आना है. लेकिन किताब के जरिए इमरान के बारे में सनसनीखेज खुलासे पर उन्होंने कहा, 'मैं चाहती हूं कि मतदाता यह जरूर जानें कि वो किसे वोट देने जा रहे हैं, मैं उनकी गवाह रही हूं, उनके राजनीतिक करियर को बेहद करीब से देखा है और पाकिस्तान को उनके हकीकत के बारे में जानने की जरूरत है.

साथ ही रेहम ने यह भी कहा कि किताब में उनकी निजी यात्रा की कहानी है, जिसमें उन्होंने अपनी निजी जिंदगी और पेशेवर जिंदगी के बारे में विस्तार से बताया है. इमरान को समलैंगिक होने की बात कहे जाने पर रेहम ने कहा कि इस बारे में थोड़ा इंतजार करना चाहिए. किताब में विस्तार से इस बारे में बताया गया है. इमरान और उनकी पार्टी ने अपनी ताकत का दुरुपयोग कर किया है. पार्टी में पोजिशन के लिए सेक्सुएल संबंधों का सहारा लिया गया.

रेहम खान ने लिखा, गे है इमरान खान और वसिम अकरम ने अपनी पत्नी को ........

इमरान खान पर लगा 5 अरब रूपए का मानहानि का दावा

'इमरान खान एक पाखंडी, झूठे,और रोजा नहीं करने वाले इंसान है'

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -