विभिन्न देवी-देवताओं के लिए अलग-अलग होते हैं माला जाप

Jan 07 2019 06:00 PM
विभिन्न देवी-देवताओं के लिए अलग-अलग होते हैं माला जाप

आप सभी को बता दें कि जब भी आप भगवान को खुश करना चाहते हैं तो कई मन्त्रों का जाप कर सकते हैं. जी हाँ, वैसे ही हम भगवान को खुश करने के लिए कई मंत्रों का उच्चारण करते हैं ऐसे में उस दौरान माला जाप भी किया जाता है जो शुभ माना जाता है. अब आज हम आपको बताते हैं कि आप किस माला से किस देवता को खुश कर सकते हैं.

रुद्राक्ष की माला- आप सभी को बता दें कि हिंदू धर्म में रुद्राक्ष की माला को सर्वोत्तम माला माना जाता है और इस माला से किसी भी मंत्रा का जाप आसानी से किया जा सकता है और इससे पूर्ण फल की प्राप्ति होती है. कहते हैं इस माला से लोग भगवान भोलेनाथ के मंत्रों का जाप करते हैं और रुद्राक्ष माला से लोग महामृत्युंजय मंत्र का जाप करते हैं जिससे भोलेनाथ खुश हो जाते हैं.

हल्दी माला- कहते हैं गुरुवार के दिन भगवान बृहस्तपति और मां बगलामुखी के मंत्रों का जाप हल्दी की माला के साथ ही किया जाता है और मनोकामना पूर्ण करने के लिए हल्दी की माला का जाप किया जाता है. इसी के साथ हल्दी की माला से विद्या प्राप्ति, संतान प्राप्ति और ज्ञान प्राप्ति के लिए मंत्रोच्चारण करते हैं.

स्फटिक माला- कहा जाता है मां लक्ष्मी के मंत्र जाप के लिए इस माला का प्रयोग किया जाता है और स्फटिक की माला से धन प्राप्ति और मन की एकाग्रता के लिए मंत्रोच्चारण करते हैं.

चंदन की माला- आप सभी को बता दें कि मां दुर्गा के मंत्र का जाप लाल चंदन की माला से किया जाता है वहीं भगवान कृष्ण के मंत्रों का जाप सफेद चंदन की माला से किया जाता है. कहा जाता है राहु की महादशा में सफेद चंदन की माला को पहननी चाहिए.

तुलसी की माला - आप सभी को बता दें कि तुलसी की माला द्वारा भगवान विष्णु के मंत्र का जाप किया जाता है और तुलसी की माला धारण करने से धन वैभव आता है.

इस तरह अब आप भी देख सकतें है खुद का भाग्य

इस दिन 'शंख' का पूजन करने से बदल जायेंगे आपके भाग्य

नए साल के पहले सूर्यग्रहण पर चमकने वाली है इन 4 राशियों की किस्मत