क्या आपका बच्चा भी रात में देर तक जागता रहता है तो ना करें अनदेखा, जानिए इसका कारण

क्या आपका बच्चा भी रात में देर तक जागता रहता है तो ना करें अनदेखा, जानिए इसका कारण
Share:

हाल के दिनों में, छोटे बच्चों से लेकर वयस्कों तक, लोगों में देर रात तक जागने का चलन बढ़ रहा है। हालाँकि, अगर माता-पिता या उनके बच्चों को समय पर सोने में कठिनाई होती है, तो उनके लिए सतर्क रहना ज़रूरी है। देर रात तक जागना बच्चों के लिए फ़ायदेमंद होने के बजाय ज़्यादा हानिकारक साबित हो सकता है, इसलिए कम उम्र से ही सोने के समय की दिनचर्या स्थापित करना ज़रूरी है।

माता-पिता को अपने बच्चों के लिए जल्दी सोने और जागने के फ़ायदों के बारे में पता होना चाहिए। देर रात तक जागने की आदतों को ठीक न करने से बच्चों को कई तरह की मुश्किलें हो सकती हैं। मूड स्विंग एक ऐसा ही परिणाम है, क्योंकि नींद की कमी से चिड़चिड़ापन और आक्रामकता बढ़ सकती है, जो बच्चे के व्यक्तित्व पर नकारात्मक प्रभाव डालती है। इसके अलावा, देर तक जागना बच्चों में तनाव या चिंता पैदा कर सकता है।

इसके अलावा, अनियमित नींद के पैटर्न से बच्चे की प्रतिरक्षा प्रणाली कमज़ोर हो सकती है, जिससे वे बीमारियों के प्रति अधिक संवेदनशील हो सकते हैं। आश्चर्यजनक रूप से, देर रात तक जागने की आदतें बच्चों में वज़न बढ़ाने में भी योगदान दे सकती हैं, जिससे गंभीर स्वास्थ्य स्थितियों का जोखिम बढ़ जाता है।

इसके अलावा, लगातार नींद की कमी से बच्चे के दिमाग और शरीर पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है। देर रात तक जागने की वजह से याददाश्त कमज़ोर हो सकती है और संज्ञानात्मक क्षमताएँ कम हो सकती हैं।

अंत में, माता-पिता के लिए यह ज़रूरी है कि वे अपने बच्चों के लिए कम उम्र से ही स्वस्थ नींद की आदतें विकसित करें। पर्याप्त नींद के फ़ायदे शारीरिक स्वास्थ्य से कहीं बढ़कर हैं, यह मूड, संज्ञानात्मक क्षमताओं और समग्र स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। नींद को प्राथमिकता देकर, माता-पिता अपने बच्चों के इष्टतम विकास और स्वास्थ्य को सुनिश्चित कर सकते हैं।

सोते समय खुद से इतनी दूरी बनाकर रखें अपना मोबाइल फोन, समय रहते जान लें वरना भुगतने पड़ सकते हैं अंजाम

स्टील-एल्युमिनियम छोड़ इन बर्तनों को पकड़ें, आपका किचन बन जाएगा पूरी तरह इको-फ्रेंडली

अगर गर्मियों में खाना आसानी से नहीं पचता तो परेशान न हों, ये लाइफस्टाइल करेगी आपकी मदद

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -