तनाव के कारण नहीं आती है नींद, तो अपनाएं ये 5 ट्रिक्स

तनाव के कारण नहीं आती है नींद, तो अपनाएं ये 5 ट्रिक्स
Share:

तनाव हमारे जीवन का एक अनिवार्य हिस्सा है। विभिन्न दैनिक मुद्दों के कारण तनाव का अनुभव करना सामान्य है, लेकिन नींद पर तनाव का प्रभाव सामान्य से बहुत दूर है। अच्छी सेहत के लिए पर्याप्त नींद ज़रूरी है, फिर भी तनाव, अवसाद या चिंता अक्सर नींद के पैटर्न को बाधित करती है, जिससे अनिद्रा के लक्षण दिखाई देते हैं। जब मन चिंताओं या तनाव से घिरा होता है, तो नींद खंडित या मायावी हो जाती है, जिससे सोना मुश्किल हो जाता है।

तनाव के कारण नींद की कमी कई स्वास्थ्य समस्याओं जैसे मोटापा, उच्च रक्तचाप, मधुमेह, कब्ज और नींद संबंधी विकारों को जन्म दे सकती है। इन स्थितियों से बचने के लिए, हर रात लगातार 7 से 8 घंटे की नींद लेना ज़रूरी है। अगर तनाव नींद में बाधा डालता है, तो कुछ सरल उपाय हैं जो मदद कर सकते हैं:

लेबलिंग: किसी को "गुस्सा" कहने के बजाय, इस बात पर विचार करें कि उनका व्यवहार विशिष्ट परिस्थितियों से प्रभावित हो सकता है। यह दृष्टिकोण परिवर्तन अनावश्यक तनाव को कम कर सकता है।

ज़्यादा सोचना: जब विचार दौड़ते हैं और नींद को रोकते हैं, तो इस चक्र को बाधित करना महत्वपूर्ण है। सोने की कोशिश करने से पहले मन को शांत करने के लिए 15 से 30 मिनट तक कोई उबाऊ गतिविधि करें या कोई किताब पढ़ें। टीवी देखने या मोबाइल फोन का उपयोग करने जैसी उत्तेजक गतिविधियों से बचें।

मल्टीटास्किंग: एक साथ बहुत सारे काम करने की कोशिश करने से ध्यान भटक सकता है, काम अधूरे रह सकते हैं और तनाव बढ़ सकता है। तनाव को कम करने के लिए एक समय में एक काम को पूरा करने पर पूरा ध्यान दें।

स्क्रीन टाइम: सोने से पहले मोबाइल फोन, लैपटॉप या टीवी देखने का अत्यधिक उपयोग नींद में बाधा डाल सकता है। बेहतर नींद की गुणवत्ता के लिए सोने से पहले कम से कम 30 मिनट तक स्क्रीन के बिना रहने का बफर ज़ोन बनाएँ।

बिस्तर बदलना: अपरिचित बिस्तर या तकिए से होने वाली असुविधा नींद में खलल डाल सकती है। यात्रा करते समय या किसी नई जगह पर सोते समय, परिचित बिस्तर या तकिए के कवर लाने से नींद की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद मिल सकती है।

इन रणनीतियों को अपनाने से नींद पर तनाव के प्रभाव को कम किया जा सकता है, जिससे समग्र स्वास्थ्य और तंदुरुस्ती को बढ़ावा मिलता है।

बार–बार होता है बर्फ खाने का मन? तो हो सकती है ये बड़ी वजह

टैटू बनवाने के इतने समय तक नहीं करें ब्लड डोनेट, वरना बढ़ जाएगा खतरा

काले और घने बाल पाने के लिए करें इन खास बीजों का इस्तेमाल, इसके फायदे कर देंगे आपको हैरान

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -