ट्रेनिंग शुरू न होने का डर सता रहा है इस प्लेयर को

टोक्यो ओलंपिक में पदक की दावेदार मीराबाई चानू का सोमवार को खेल मंत्री किरन रिजिजू के समक्ष दर्द छलक उठा. खेल मंत्री किरेन रििजजू ने सोमवार से एनआईएस पटियाला और बंगलूरू में फंसे खिलाड़ियों की तैयारियां शुरू कराने के लिए उनसे बातचीत का सिलसिला शुरू किया है. खेल मंत्री, खेल सचिव, साई महानिदेशक के सामने नौ वेटलिफ्टर थे. 

रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने खेल मंत्री से ऑनलाइन बातचीत के दौरान कहा कि एक सप्ताह की ट्रेनिंग छूटने का मतलब यह है कि ओलंपिक की तैयारियों से एक माह के लिए पिछड़ना. मीरा के अलावा भारतीय वेटलिफ्टिंग संघ, जेरमी लालरिनुनगा समेत सभी नौ वेटलिफ्टरों ने जल्द तैयारियां शुरू कराने को कहा. खेल मंत्री ने लिफ्टरों को आश्वस्त किया है कि कमेटी ने दिशा-निर्देश बनाने शुरू कर दिए गए हैं. 

जानकारी के लिए हम बता दें कि चीन व उत्तर कोरिया की लिफ्टर कर रहीं तैयारियां संघ के महासचिव सहदेव यादव ने कहा कि मीरा की ओलंपिक क्वालिफाई करने वाले लिफ्टरों में रैंकिंग तीन है. मीरा से ऊपर चीन और उत्तर कोरिया की लिफ्टर हैं. ये देश कड़ी तैयारियों में जुटे हैं. लिफ्टर अगर ट्रेनिंग नहीं करेंगे तो उनकी मांसपेशियां कमजोर पड़ने लगती हैं. ऐसे में वेटलिफ्टरों का ट्रेनिंग शुरू कराना बेहद जरूरी है. लिफ्टर लॉकडाउन से पहले से ही कैंप में हैं.

मेसी ने अर्जेंटीना के अस्पताल में दिया कई लाख डॉलर का दान

2020 : सेबेस्टियन वेट्टेल का फेरारी कंपनी के साथ होगा अंतिम सीजन

जानिए दिग्गज क्रिकेटर जॉफ्रा के जीवन से जुड़ी कुछ ख़ास बातें

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -